कांकेर। दूध नदी और पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य को लेकर समाजसेवियों द्वारा साइकिल रैली का आयोजन किया गया। दूध नदी के उद्गम स्थल मलांजकुडूम में पूजा अर्चना कर नवागांव से साइकिल रैली निकाली गई, जिसमें बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। इस दौरान सभा का आयोजन कर लोगों को दूध नदी और पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया।

जन सहयोग समाजसेवी संस्था के तत्वावधान में रविवार को जीवनदायनी दूध नदी और पर्यावरण संरक्षण का आव्हान करते हुए दूध नदी के उद्गम स्थल मलांजकुडूम से काकेर शहर के पुराने बस स्टैंड तक जन जागरण के लिएसाइकिल रैली निकाली गई। साइकिल रैली में शामिल होने के लिए रविवार सुबह बड़ी संख्या में लोग मलांजकुडूम पहुंचे। जहां नदी की पूजा-अर्चना और आरती की गई। जिसके बाद वहां सफाई अभियान चलाया गया। जिसके बाद समाजसेवी ग्राम मर्दापोटी पहुंचे।

जहां सभा का आयोजन किया गया और पर्यावरण व दूध नदी के संरक्षण की बात कही गई। ग्राम भावगीर नवागांव से साइकिल रैली की शुरुआत बैंड-बाजे, नृत्य, गीत के साथ हुई और रैली कांकेर शहर के पुराने बस स्टैंड पहुंचकर संपन्ना हुई। इस बीच रास्ते भर पर्यावरण संबंधी संदेश देने वाले पर्चे वितरित किए गए और लोगों को नदी, तालाब आदि की सरंक्षण का महत्व बताया गया।

साइकिल रैली में जन सहयोग संस्था के सदस्यों के साथ ही बड़ी संख्या में शहर के युवा भी उत्साह के साथ शामिल हुए। साइकिल रैली में जन सहयोग संस्था अध्यक्ष अजय पप्पू मोटवानी, ईएसएन कुंजू, आशाराम नेताम, अनुराग उपाध्याय, संजय मंशानी, मोहन सेनापति, प्रवीण गुप्ता, धर्मेंद्र देव, सरकार सिंह ठाकुर, सागर देव, जितेंद्र प्रताप देव, रोशन मोटवानी ,चरण यादव, करण नेताम, रवि पटेल, प्रतीक पटेल, राजेश चौहान, संजू मोटवानी, सदा साहू, गोपाल पटेल ,दिनेश मोटवानी, कृष्णा चौरसिया, विशाल शोरी, पप्पू साहू, राम पटेल, रिंकू, मनोज दुबे, रितिक सोनी, भूपेंद्र यादव सहित बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close