कांकेर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। आमाबेड़ा क्षेत्र के ग्राम कम्काकूडूम के जंगल में डीआरजी की टीम शुक्रवार पांच अगस्त को गश्त के लिए गई थी। इसी दौरान नक्सलियो से मुठभेड़ हो गई। नक्सली जवानो को आता देख फायरिंग शुरू कर दिया। आधा घंटा तक लगातार फायरिंग के बाद नक्सली जंगलो की आड़ लेकर भागने में सफल हो गए। पुलिस दावा कर रही है कि एक महिला नक्सली को मुठभेड़ मे मार गिराया है।

पुलिस विभाग से मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार को सुबह से ही डीआरजी के टीम रोज की तरह शुक्रवार को भी नक्सली गश्त पर रवाना हुई थी। इसी डीआरजी की टीम आमाबेड़ा क्षेत्र के जंगलो में गश्त करते हुए लगभग दिन के एक बजे ग्राम कम्काकुडूम के जंगलों में पहुंच गई। जहां घने जंगलों के बीच में नक्सली पहले से ही अपना कैंप लगाकर बैठे हुए थे।

कैंप में नक्सली खाना बना रहे थे तभी डीआरजी की टीम वहा पहुंच गई। जिसे देख एक नक्सली ने पहले फायरिंग किया। फायरिंग होता देख डीआरजी की टीम भी मोर्चा संभाला और जवाबी कार्रवाई में जवानों ने भी फायरिग खोल दी। जिसके बाद नक्सलियों के तरफ से भी अधांधुंध फायरिंग होने लगी। लगभग आधा घंटा तक लगातार फायरिंग के बाद नक्सली भागने लगे। जवानो ने भी नक्सलियों का पीछा किया। लगभग एक किमी तक पीछा करने के बाद नक्सली घने जगंलो की आड़ लेकर भागने में सफल रहे। मुठभेड़ में डीआरजी के सभी जवान सुरक्षित जंगलों से बाहर निकले। क्षेत्र में गश्त को और बढा दिया गया है।

मुठभेड़ मे महिला नक्सली ढेर होने की आशंका

डीआरजी के जवानों ने बताया कि आधा घंटा तक अंधाधुंध फायरिंग हुई। इस दौरान जवानों ने एक महिला नक्सली को गोली लगते और नीचे गिरते हुए देखा। एसपी ने भी एक नक्सली ढेर होने का दावा किया है।

चार घंटों तक होती रही फायरिंग

मुठभेड़ में शामिल जवानों के अनुसार, करीब आधा घंटा तक लगातार फायरिग हुई। जिसके बाद नक्सली भागते हुए रूक-रूककर फायरिंग करने लगे। जवानो ने भी नक्सलियों का पीछा करते हुए लगभग चार घंटों तक फायरिंग किया।

जवानों ने एक नक्सली कैंप को किया ध्वस्त

डीआरजी के जवानो ने मुठभेड में एक नक्सली कैंप को ध्वस्त कर दिया है। जहां से जवानों ने भारी मात्रा में नक्सलियों के दैनिक उपयोग के सामग्री को जब्त किया है। जिसमें 12 बोर का राउण्ड पांच नग, प्रेशर कुकर आईईडी एक नग पांच किलो का, वाकीटाकी दो नग, स्केनर एक नग, नक्सली वर्दी सात नग, बैटरी दो नग, पिट्ठू बैग नौ नग, सोलर प्लेट दो नग, प्लास्टिक पानी जरकीन चार नग, नक्सली बैनर-पाम्पलेट, बिजली वायर, खाना बनाने के बर्तन, गोली-दवाई, नक्सली साहित्य एवं भारी मात्रा में दैनिक उपयोगी व अन्य नक्सली सामग्री बरामद की गई।

एक आईईडी को जवानो ने किया नष्ट

जवानों ने नक्सली कैंप के भीतर एक प्रेशर कुकर आईईडी जब्त किया है। यह पांच किलो का है। जिसे मौके पर ही विस्फोट कर नष्ट किया है। जिसके अवशेष को बरामद कर जब्त किया है।

नक्सली मुर्गा बनाकर पार्टी करने के फिराक में थे

पुलिस द्वारा नक्सली कैम्प को ध्वस्त करने का एक विडियो वायरल हो रहा था, जिसमें नक्सली दो मुर्गा को मारकर बनाने की फिराक में थे। जिसके बाद जवानो के आने से सभी सामाग्री को वही छोड़ भाग निकले।

नक्सली बड़ी वारदात को अंजाम देने के फिराक में

एसपी शलभ सिन्हा ने बताया कि इस समय नक्सलियों का शहीद सप्ताह चल रहा था जिसमें कोई बडी घटना को अंजाम देने के लिए नक्सली वहां पर कैम्प लगाकर बैठे थे। जिसे हमारे जवानो ने ध्वस्त कर एक बडी कामयाबी हासिल किया है।

कैंप में बड़े नक्सलियों के होने की थी आशंका

जवानो ने बताया कि जिस तरह से नक्सली फायरिंग कर रहे थे, उस हिसाब से नक्सलियों के पास एके 47 जैसे आधुनिक हाथियार के होने की आशंका है। क्योंकि लोकल घूमने वाले नक्सली गिरोह के पास नहीं होता है। जिससे यही आशंका लगाई जा रही है कि कैंप में नक्सलियों के बाहर से कोई बड़े लीडर आए थे जो कोई बड़ी घटना को अंजाम देने वाले थे जिसे समय रहते ही ध्वस्त कर दिया गया।

Posted By: Pramod Sahu

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close