कांकेर/बड़गांव। नक्सलियों ने एक बार फिर मंडागांव के पूर्व सरपंच घस्‍सूराम उसेंडी को जान से मारने की धमकी दी है। इस बार भी जारी बैनर व पोस्टर में नक्सलियों ने घस्सूराम पर माओवादियों के नाम पर धन उगाही करने का आरोप लगाया है। भाकपा माओवादी परतापपुर एरिया कमेटी के नाम से जारी इस बैनर-पोस्टर में नक्सलियों ने पूर्व सरपंच को धमकी दी है कि सुधर जाओ वर्ना जन अदालत में जनता ही तुम्हारा फैसला करेगी।

इसके पहले भी नक्सली दो-तीन बार घस्सूराम के खिलाफ फरमान जारी कर चुके हैं।

लगातार मिल रही धमकियों से घस्सूराम उसेंडी का परिवार चिंतित है। आठ दिन पूर्व ही भाकपा माओवादी परतापपुर एरिया कमेटी ने बड़गांव के स्कूल परिसर में व बड़गांव के आखिरी छोर में भारी मात्रा में बैनर व पोस्टर टांगकर घ्ास्सूराम को चेतावनी दी थी। इसमें अंकित था कि सुधर जाओ वर्ना जन अदालत में जनता ही तुम्हारा फैसला करेगी।

रिश्वत लेकर खदान चालू करने की व भाजपा के साथ मिलकर क्रियाशील रूप से दमन अभियानों को लाने में उसकी भूमिका बताते हुए चेतावनी दी गयी थी। इसके बाद शनिवार को सुबह उसेंडी के निवास स्थान से मात्र आठ सौ मीटर की दूरी पर भारी मात्रा में बैनर व पोस्टर फेंके गए हैं और पेड़ों पर भी टांगे गए हैं, जिसमें धमकी दी गई है।

बीएसएफ कैंप मात्र 500 मीटर की दूरी पर

घ्ास्सूराम उसेंडी वर्तमान में जनपद पंचायत कोयलीबेड़ा के अध्यक्ष के पिता भी हैं। इससे घ्ाटना इलाके में आग की तरह फैल गई है और चर्चा का विषय बनी हुई है। घ्ाटनास्थल से बीएसएफ कैम्प की दूरी मात्र 500 मीटर ही है। इसके बावजूद नक्सली जिस तरह से बैनर व पर्चा फेंकने में सफल हो रहे हैं, उससे स्थानीय लोगों की चिंता बढ़ी हुई है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket