कांकेर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की तैयारी पूरी कर ली गई है। जिले में इस बार मंगलवार (आज) से 125 खरीदी केंद्रों में धान की खरीदी की जाएगी। जिसके लिए धान खरीदी केंद्रों में बारदाने भी उपलब्ध करा दिए गए है। किसानों के टोकन काटने का कार्य भी शुरू हो गया है।

मौसम की मार झेल रहे किसानों का इंतजार अब खत्म हुआ। और आज से धान खरीदी शुरू होने जा रही है। अधिकांश किसानों ने अपनी फसल की कटाई कर ली है और धान खरीदी कार्य शुरू होने का इंतजार कर रहे थे। खराब मौसम के चलते कटाई और मिंजाई के बाद उपज को बारिश से बचाना भी किसानों के लिए चुनौती साबित हो रही थी। वहीं अब राज्य शासन के निर्देशानुसार 1 दिसंबर से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी शुरू हो जाएगी।

इस बार जिले में धान खरीदी के लिए 12 नए खरीदी केंद्र बनाए गए हैं। जिसके साथ अब जिले में धान खरीदी केंद्रों की संख्या बढ़कर 125 पहुंच गई है। बताया जा रहा है कि धान खरीदी के लिए सभी केंद्रों में बारदाना, कंप्यूटर, प्रिंटर और नमी मापक यंत्र व अन्य आवश्यक सामग्री की व्यवस्था की गई है। साथ ही खरीदी केंद्रों में पेयजल व अस्थाई शौचालय की भी व्यवस्था भी की गई है। खरीदी केंद्रों में बारदाने की व्यवस्था भी की गई है। जिले के 125 धान उपार्जन केंद्रों में 10,95,533 बारदानों की आपूर्ति की गई है। जिसमें पीडीएस के माध्यम से 45,7,896 बारदानें व 35,0500 नए बारदाने और 28,7,137 पुराना बारदाना मिलर से प्राप्त हुआ है। जिसे धान खरीदी केंद्रों में उपलब्ध कराया गया है। धान खरीदी केंद्रों में धान खरीदी के लिए तैयारी भी पूरी कर ली गई है। प्लास्टिक के बोरों में भूंसा भरकर तैयार कर दिया गया है। जिससे खरीदी के बाद तत्काल झल्ली लगाई जा सके।

बाक्स

जिले में 80 हजार से अधिक पंजीकृत कृषक

जिले में 80 हजार से अधिक पंजीकृत कृषक हैं, जो समर्थन मूल्य पर अपना धान बेचेंगे। समर्थन मूल्य पर धान बेचने के लिए इस वर्ष कुल 80719 किसानों ने समितियों में अपना पंजीयन कराया गया है, वहीं पिछले वर्ष 74277 किसानों के द्वारा पंजीयन कराया गया था। पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष 6442 अधिक किसानों के द्वारा धान बेचने के लिए अपना पंजीयन कराया गया है।

बाक्स

64 समितियों में कटे 77 टोकन

जिले में 64 समितियों के माध्यम से धान खरीदी का कार्य होता है। धान खरीदी का कार्य शुरू होने के पहले ही 77 किसानों का टोकन काटा जा चुका है। बताया जा रहा है कि खरीदी केंद्रों में किसान बड़ी संख्या में टोकन लेने के लिए पहुंच रहे हैं, लेकिन खरीदी केंद्र में व्यवस्था और प्रतिदिन होने वाली खरीदी के अनुपात में टोकन जारी किया जा रहा है। साथ ही खरीदी केंद्र में पहुंचने वाले किसानों की क्रमानुसार सूची तैयार की जा रही है, उसी क्रम में टोकन काटा जा रहा है।

बाक्स

रोजाना आनलाइन अपलोड होगा डाटा

धान खरीदी में होने वाली गड़बड़ी को रोकने के लिए इस वर्ष खरीदी केंद्रों का डाटा प्रतिदिन अपलोड करना होगा। जिसके लिए रोजाना की गई खरीदी का डाटा सुबह 9 बजे से रात साढ़े नौ बजे तक आनलाइन अपलोड किया जाना है। लेकिन सर्वर डाउन होने पर व तकनीकी खराबी आने पर इसका समय बढ़ाया जा सकता है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस