कांकेर। कृषि महाविद्यालय व अनुसंधान केंद्र सिंगारभाट परिसर में मकर संक्रांति पर्व के अवसर पर सूर्य नमस्कार कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आयोजन भौतिक उपस्थिति के साथ-साथ आनलाइन मोड में भी किया गया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि महाविद्यालय के अधिष्ठाता डा. देवशंकर की गरिमामय उपस्थिति रही। कार्यक्रम में हेमंत टोप्पो, सहायक प्राध्यापक एवं खेलकूद अधिकारी द्वारा सभी प्राध्यापकगण तथा छात्रों को सर्वप्रथम वार्मअप व्यायाम कराके सूर्य नमस्कार कराया गया।

आनलाइन मोड में छाओं द्वारा भी साथ-साथ व्यायाम व सूर्य नमस्कार किया गया। हेमंत टोप्पो द्वारा पश्चिमोत्तानासन, वीरभद्रासन, मार्जर्यासन, हस्तपादासन, योगनिद्रा, कपालभारतीय, अनुविलोम आदि योगाभ्यास कराया गया। डा. देवशंकर द्वारा मानव जीवन में योगाभ्यास का महत्व बताते हुए शरीर के साथ.साथ मानसिक रूप से सषक्त बनाने के लिए योगाभ्यास को अपनाने के लिए सभी से अपील किया गया।

अनिल कुमार नेताम, सहायक प्राध्यापक द्वारा योगाभ्यास द्वारा अपने पढ़ाई व स्मरण क्षमता को बढ़ाने में मिलने वाली आंतरिक शक्ति के विषय में जानकारी प्रदान की गई। कार्यक्रम संचालन इंजी. गंगाधर भगत, सहायक प्राध्यापक व राष्ट्रीय सेवा योजना, कार्यक्रम अधिकारी द्वारा किया गया तथा सभी से आग्रह किया कि नियमित रूप से योगाभ्यास करें। साथ ही बताया गया कि तेज रफ्तार जीवन से कुछ समय निकालकर कर योगा करने पर जीवन में आनंद का संचार होता है।

महाविद्यालय के छात्रों द्वारा शासकीय वेबसाइट 75 सूर्य नमस्कार डाट काम में आनलाइन रजिस्ट्रेशन किया गया है, जिसमें उन्होंने प्रतिदिन योगाभ्यास करने का संकल्प लिया तथा 21 दिन के योगाभ्यास डाटा को वेबसाइट में अपलोड करने पर प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किया जाएगा।

कार्यक्रम में उपस्थित महाविद्यालय के बीएससी (कृषि) चतुर्थ वर्ष के छात्रों हेमंत सूर्यवंशी, विक्रम मेहश्वरी, राजू कश्यप, मुकेश बघेल, हेम कुमार और विकास नायक जो कि अपने पाठ्यक्रम के अनुरूप व्यापारिक गतिविधियों का अध्ययन एवं प्रायोगिक रूप से भी कर रहे हैं इनके द्वारा मकर संक्रांति पर्व के उपलक्ष्य में तिल-गुड़ लड्डू को क्रय किया गया तथा इसके निर्माण व मार्केटिंग की जानकारी अधिष्ठाता को दिया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local