16 कांकेर 14

कुआं में गिरा भालू।

16 कांकेर 15

कुआं से बाहर निकला भालू।

16 कांकेर 16

वन कर्मचारी व ग्रामीण भालू को निकालने की जुगत लगाते।

चारामा-लखनपुरी। नईदुनिया प्रतिनिधि

अमरूद खाने के लालच में गांव में पहुंचा भालू बुधवार रात एक भालू सूखे कुएं में जा गिरा। रात भर भालू कुएं में ही था। सुबह ग्रामीणों ने कुएं में गिरे भालू को देखा और ग्रामीणों ने इसकी सूचना वन अमले को दी। काफी मशक्कत के बाद भालू को बाहर निकाला जा सका।

चारामा क्षेत्र के ग्राम कुर्रूभाट में बुधवार की रात पास की पहाड़ी से एक भालू पहुंचा था। जो रात में चंदरबती कश्यप की बाडी में पहुंचा और पेड़ पर लगे अमरूद को खाने के प्रयास में पास में करीब ही एक सूखे कुएं में गिर गया। गुरुवार की सुबह जब घर मालिक कुएं के आस पास गुजरे तो वहां भालू को देखकर ग्रामीणों ने इसकी सूचना दी। तत्काल वन विभाग के अधिकारियों को भी जानकारी दी गई। वहीं गांव में इसकी खबर फैलते ही ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी। भीड़ को नियंत्रण में रखने के लिए हल्बा चौकी को सूचना देकर पुलिस बल को बुलाया गया। सुबह सात बजे वन विभाग का अमला मौके पर पहुंचा।

डिप्टी रेंजर भुनेश्वर लाल सुरोजिया, युगल किशोर सोनबोईर, वनरक्षक सहित अन्य कर्मचारियों ने ग्रामीणों की मदद से लकड़ी की सीढ़ी बनाकर कुएं में डाल दिया। भालू जैसे ही सीढ़ी पर चढ़ा सीढ़ी टूट गई। इसके बाद फिर दो रस्सी को जोड़कर रस्सी की सीढ़ी तैयार कर कुएं में डाली गई। लगभग तीन घंटे की मशक्कत के बाद भालू रस्सी के सीढ़ी के सहारे कुएं से बाहर आया। कुएं से बाहर निकला भालू आक्रोशित था और इधर-उधर दौड़ता रहा। कुछ ही देर में वह जंगल की ओर भाग निकला। चारामा रेंजर एसआर सिंह ने कहा कि ग्रामीणों से सूचना मिलने पर वन विभाग के कर्मचारियों के साथ स्थल पर पहुंचकर ग्रामीणों की सुरक्षा के लिए उन्होंने जालीदार नेट लगाया गया था। सीढ़ी और रस्सी कि सहायता से भालू को सुरक्षित निकाला गया है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan