कांकेर। जिले में 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लिए बने टीकाकरण केंद्र में पहले हितग्राही नहीं पहुंच रहे थे। वहीं अब 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए बने टीकाकरण केंद्रों में भी भी सन्नााटा नजर आ रहा है। वैक्सीन पहुंचने के बाद टीकाकरण तो शुरू हो गया है, लेकिन टीकाकरण केंद्रों में सन्नााटा पसरा हुआ है। टीकाकरण केंद्र में हितग्राहियों के न पहुंचने से टीकाकरण कार्य की गति धीमी पड़ गई है।

कोरोना संक्रमण की रफ्तार घटने के साथ ही टीकाकरण को लेकर लोगों का उत्साह भी घटता नजर आ रहा है। पूर्व में जहां अफवाह व डर के चलते 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग का टीकाकरण प्रभावित हुआ था। वहीं अब 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग का टीकाकरण भी प्रभावित होता दिखाई दे रहा है। जिससे टीकाकरण केंद्रों में सन्नााटा पसरा हुआ है। स्वास्थ विभाग की ओर से टीकाकरण कार्य में गति लाने के लिए किये जा रहे तमाम प्रयास नाकाफी साबित हो रहे हैं। 18 वर्ष से अधिक उम्र के हितग्राहियों का टीकाकरण शुरू होने के बाद युवाओं में टीकाकरण को लेकर अभुतूपर्व उत्साह देखने को मिला था और केंद्रों में टीकाकरण के लिए युवाओं की लंबी कतार लग रही थी। लेकिन राज्य स्तर से दोबारा वैक्सीन मिलने के बाद टीकाकरण का कार्य शुरू होने के बाद टीकाकरण केंद्रों में सन्नााटा पसरा हुआ है। टीकाकरण केंद्रों में गिनती के हितग्राही ही पहुंच रहे हैं। कुछ लोग इसे कोरोना संक्रमण में कमी आने से जोड़कर भी देख रहे हैं। बढ़ते कोरोना संक्रमण के दौरान लोगों के द्वारा कोरोना की चपेट में आने से बचने के लिए टीका लगाने को प्राथमिकता दी जा रही थी। लेकिन अब जब कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आ गई है, तो लोगों के द्वारा टीकाकरण की ओर भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

मंगलवार को जिले में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग 714 हितग्राहियों ने टीकाकरण कराया तो 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में केवल 10 हितग्राहियों का ही टीकाकरण हो सका था। जिससे टीकाकरण की स्थिति का अंदाजा लगाया जा सकता है। टीकाकरण अधिकारी डा आइके सोम ने बताया कि युवाओं में टीकाकरण को लेकर उत्साह था और बड़ी संख्या में उन्होंने आनलाइन पंजीयन भी कराया है, लेकिन टीकाकरण केंद्र में हितग्राही नहीं पहुंच रहे हैं।

जिले में तीन दिन के लिए वैक्सीन

जिले को 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लिए टीकाकरण के लिए कोविशिल्ड वैक्सीन के 3700 डोज मिले थे। तीन दिनों तक टीकाकरण कार्य जारी रहने के बाद अब जिले में 1500 डोज ही शेष हैं, जिससे आने वाले तीन दिनों तक ही टीकाकरण का कार्य जारी रह सकेगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local