पोंडी (नईदुनिया न्यूज)। शारदीय नवरात्र प्रारम्भ हुए आठ दिन हो गए है। पोंडी में मां दुर्गा की प्रतिमाएं अलौकिक रूपो में रंग-बिरंगे कपड़ो से सजे पंडालों में विराजित की गई हैं, जो भक्तों के मन को मोह रही है। साथ ही देवी मां को अनेक रूपों में देख भक्त भी अलौकिक आनंद प्राप्त कर रहे हैं। सभी पंडालों को समितियों ने अलग-अलग प्रकार से सजाया गया है। सजावट भक्तों को अपनी ओर आकर्षित कर रही है। बच्च, बूढ़े, महिलाएं बड़ी संख्या में पंडालों के पास पहुच रहे हैं। पोंडी नगर में प्रतिवर्ष के भांति इस वर्ष भी दुर्गा पंडालों में देवी मां की प्रतिमाएं पांच जगहों पर विराजित की गई है। सार्वजनिक दुर्गोत्सव समिति, नवयुवक दुर्गोत्सव समिति, शिव सागर दुर्गोत्सव समिति, मां शक्ति गजानंद दुर्गोत्सव समिति, कुम्हार पारा दुर्गोत्सव समिति इन पांच जगहों पर देवी मां की प्रतिमाएं अनेक रूपों में विराजित है। पिछले वर्ष कोरोना के चलते पोंडी नगर में सिर्फ तीन देवी मां की प्रतिमाएं विराजित थीं, लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण के कमी के चलते प्रशासन की ओर से दिशा निर्देश में छूट मिलने के बाद पोंडी में विराजित देवी मां प्रतिमाओं की संख्या बढ़ी है।

शीतला मन्दिर में 114 ज्योति कलश प्रज्वलित

पोंडी नगर के हृदय स्थल में स्थित सिद्घपीठ मां शीतला मंदिर में प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी 114 ज्योति कलश प्रज्वलित किया गया है। शीतला मंदिर में ज्योति कलश जलवाने से लोगो की हर मनोकामना पूर्ण होने की आस्था है, जो अभी भी बरकरार है। इसी के चलते लोगो में आस्था बना हुआ है, ज्योति कलश प्रज्वलित करवाने से परिवार के सुख समृद्घि में वृद्धि होती है।

शीतला मंदिर में लगाया गया कैमरा

शीतला मन्दिर में इस वर्ष नवरात्रि में पूरे मन्दिर परिसर में कैमरा लगाया गया है। यह सुरक्षा देवी मां की मूर्ति और मन्दिर परिसर को असामाजिक तत्वों से बचाये रखने के लिए किया गया। चूंकि पूर्व में असामाजिक तत्वों के द्वारा देवी मां की प्रतिमा और उनके श्रृंगार को हानि पहुचाने की कोशिश किया जा चुका है। इसी को ध्यान में रखते हुए शीतला मन्दिर समिति के सदस्यों और पोंडी के व्यापारियों के सहयोग से पूरे मन्दिर परिसर में कैमरा लगवाया गया है। जिससे अब पूरा मन्दिर परिसर असामाजिक तत्वों से सुरक्षित रहेगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local