कवर्धा। सोमवार को जिला भाजपा किसान मोर्चा द्वारा कबीरधाम जिले के सभी मंडल के 50 सोसाइटियों में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन कर वर्मी कंपोष्ट के बाध्यता को समाप्त करने और किसानो को खरीब फसल के लिए खाद की आपूर्ति के लए सभी सोसाइटियों में भंडारण की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया। साथ ही मांगों को लेकर प्रशासन को ज्ञापन सौंपा।

भाजपा की प्रमुख मांगों में पूर्व में घोषित दो वर्ष का बकाया बोनस राशि को भुगतान करें क्योंकि गन्ना किसानों का जिले में संचालित दो शक्कर कारखाना है, उसमे किसानो का राशि भुगतान नहीं हुआ है। रबी फसल में असमय जो बारिश और ओला वृष्टि हुई है, उसमें हुई फसल की क्षति उसे राहत पहुंचाने प्रधानमंत्री फसल योजना के माध्यम से किसानों को मुआवजा राशि प्रदान किया जाए, प्रदेश सरकार द्वारा हाल ही में जारी राजीव गांधी न्याय योजना के अंतिम किस्त की राशि मे 30 से 50 प्रतिशत तक की कटौती करते हुए करीब 470 करोड़ की राशि किसानों को कम जारी की गई है, इसी अंतर की राशि को तत्काल किसानों को जारी किए जाए।

कांगे्रस राज्य में सरकार बनने से पहले किसानों का दाना-दाना धान खरीदने का वादा किया गया था, चूंकि छत्तीसगढ़ मे रबी की फसल भी पर्याप्त मात्रा में होती है, अतः पूरे प्रदेश मे किसानों की रबी फसल की खरीदी 2500 रुपये प्रति क्विंटल मे तत्काल प्रारंभ किए जाने, राज्य सरकार द्वारा सरकार बनने से पहले अपने घोषणा पत्र में पूर्व सरकार के लंबित दो वर्षो के धान बोनस देने का वादा किया था, किंतु सरकार को आज साढ़े तीन साल से अधिक हो गए हैं, बकाया बोनस की राशि तत्काल किसानों को जारी किए जाने की मांग की गई है।

इस अवसर पर सभी जिला प्रमुख पदाधिकारी व भाजपा मंडल के अध्यक्ष गजपल साहू, परमेश्वर चंद्रवंशी, मुकेश ठाकुर, चंद्रप्रकाश चंद्रवंशी, नीलांबर चंद्राकर, राघवेंद्र वर्मा, पिछड़ा मोर्चा जिलाध्यक्ष जयप्रकाश कौशिक, गणेश तिवारी, ओमप्रकाश वर्मा, जिला उपाध्यक्ष युवराज ठाकुर, कोषाध्यक्ष निर्मल द्विवेदी, कृष्णा देवांगन, गीतेश चंद्राकर, किसान मोर्चा मंडल अध्यक्ष गोवर्धन चंद्रवंशी, महामंत्री रामफल यादव, पवन पटेल, संजय मिश्रा, परमेश्वर साहू, राजेंद्र साहू, चंद्राप्रकाश सोनी, नवल किशोर पांडेय, विरेंद्र शर्मा, विरेंद्र सिंह ठाकुर, नकुल ठाकुर, सोनू ठाकुर, रविश राजपूत, पदमराज टंडन, रमेश केशरवानी, अमित चंद्रवंशी, काशीराम साहू, मनोज साहू, कमलेश दिवेदी मौजूद रहे।

कांग्रेस सरकार किसान विरोधीः अनिल सिंह

जिलाध्यक्ष भाजपा अनिल सिंह ठाकुर ने राज्य सरकार की किसान विरोधी नीति को उजागर करते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार हमेशा से किसान विरोधी नीति में काम करते आ रही है। 2018 में सत्ता हासिल करने से आज तक ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया है, जो किसान हित में नहीं है। अब तक किसानों का कर्ज माफ हुआ ही नहीं है। साथ ही बिजली का बिल भी हाफ नहीं हुआ है और आज ये स्थिती है कि किसान अपने मांग के लिए सड़क की लड़ाई लड़ रहा है।

जनता के साथ छलावाः भुनेश्वर चंद्राकर

जिलाध्यक्ष किसान मोर्चा भुनेश्वर चंद्राकर ने भूपेश सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि भूपेश सरकार केंद्र में बैठी सोनिया गांधी को खुश करने के लिए छत्तीसगढ़ के भोले भाले जनता के साथ छलावा कर रही है। आज किसान परेशान है। किसान की सुध लेने वाला कोई नहीं है। जहां आज जिले के प्रत्येक सोसाइटी में खाद का भंडारण सरकार को सुनिश्चित कर लेना चाहिए। आज वो विफल नजर आ रही है। आज किसानो को खाद के परमिट कटवाने के लिए वर्मी कंपोस्ट खाद के नाम से लूटा जा रहा है। साथ ही किसानों का राजीव गांधी न्याय योजना का अंतिम किस्त पूर्व 2021-22 के धान खरीदी का जारी की गई, उसमें 30 से 40 प्रतिशत राशि की कटौती की गई है। आज जिले में ऐसे दो हजार से ऊपर प्रकरण है जिन्हें आज पर्यंत स्थाई पंप हेतु विद्युतीकरण नही ंकिया गया जबकि किसानों का डिमांड एक वर्ष से पूर्व सरकार द्वारा पटवा लिया गया है, ऐसे में देखे तो यह सरकार किसान विरोधी नजर आ रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close