कवर्धा। सोमवार को जिला भाजपा महिला मोर्चा की प्रथम कार्यसमिति की बैठक कवर्धा में संपन्ना हुई। इस दौरान भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष शालिनी राजपूत, प्रदेश मंत्री भावना बोहरा एवं पदाधिकारियों ने कवर्धा स्थित नंदी विहार कालोनी के समीप स्थित शराब दुकान को वहां से हटाने के लिए स्थानीय महिलाओं द्वारा की जा रही हड़ताल स्थल पर जाकर अपना समर्थन दिया और राज्य सरकार से शराब दुकान को हटाने की मांग भी की।

बैठक में भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष शालिनी राजपूत ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की केंद्र सरकार ने महिलाओं तथा बालिकाओं को सशक्त बनाने का काम किया है। इनके लिए कई योजनाएं चलाई हैं जिनका लाभ बेटियों तथा महिलाओं को मिल रहा है। वहीं दूसरी ओर छत्तीसगढ़ सरकार ने सत्ता में आने से पहले महिलाओं के लिए बड़े-बड़े वादें किये थे परन्तु आज वे सब ठंडे बस्ते में हैं। युवाओं को रोजगार और बेरोजगारी भत्ता, शराबबंदी, किसानों का कर्जा माफ जैसे कई बड़े-बड़े वादे किये थे लेकिन उसे अब तक पूरा नहीं किया है।

राजनांदगांव सांसद संतोष पांडेय ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र सरकार महिलाओं के उत्थान व सशक्तीकरण के लिए निरंतर कार्य कर रही है और हमारी मोर्चा की बहनें उन योजनाओं का लाभ दिलाने पूरी ऊर्जा के साथ कर रही हैं। पूर्व संसदीय सचिव सियाराम साहू ने भी सभा को संबोधित किया। इस अवसर पर अशोक साहू, डॉ.सीताराम, देवकुमारी, मधु तिवारी, सुषमा, विजय लक्ष्मी, सतविंद पाहुजा, सविता ठाकुर एवं जिला भाजपा व मंडल महिला मोर्चा की सदस्य, पदाधिकारीगण, वरिष्ठगण एवं कार्यकर्तागण उपस्थित थे।

जिला अध्यक्ष अनिल ठाकुर ने कहा कि महिला मोर्चा की बहनें आज संगठन को एक नई दिशा देने का कार्य कर रहीं हैं। आज पूरे देश में महिला मोर्चा की बहनें आगे आकर अपने आस-पास महिलाओं के हित व अधिकारों के लिए संघर्ष कर रहीं है। वहीं छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि तीन वर्ष पूर्ण होने के बाद भी आज छत्तीसगढ़ बहाली और बदहाली की मार सह रहा है।

योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाना उद्देश्य : भावना बोहरा

भावना बोहरा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में राजनीतिक भागीदारी से महिलाएं समाज के विकास में दायित्व निभा रही हैं। स्वरोजगार से जुड़ परिवार के उत्थान की दिशा में भी काम कर रही हैं। हाल के दिनों में राजनीतिक से लेकर स्वरोजगार के क्षेत्र में भूमिका निभाकर महिलाएं सशक्त हुई हैं। प्रत्येक बूथ में जाकर केंद्र सरकार व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह के कार्यकाल में महिलाओं के हित व अधिकार हेतु चलाई गई योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाना होगा। आज केंद्र सरकार में 11 महिला मंत्री हैं। भाजपा ने महिलाओं को 33 फीसद आरक्षण देकर साबित किया है कि वह उन्हें पूर्ण अधिकार देने की वकालत ही नहीं काम भी करती है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local