कवर्धा (नईदुनिया न्यूज)। जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच पंचायत उपचुनाव होना है। इस बीच कोरोना संक्रमित भी वोट डाल सकेंगे। इनके लिए विशेष व्यवस्था के निर्देश दिए गए है। जिले में 20 जनवरी को 6 सरपंच व 8 पंच के लिए वोटिंग होनी है। इस संबंध में चुनाव में लगे कर्मचारियों के प्रशिक्षण का काम पूरा कर लिया गश है। इस चूनाव में करीब 10 हजार से अधिक लोग अपना मताधिकार का प्रयोग करेंगे। निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार किसी भी व्यक्ति को कोविड-19 संक्रमण के कारण मतदान से वंचित नही किया जाएगा। बल्कि यदि कोई संक्रमित व्यक्ति मतदान का इच्छुक है तो वह पीपीई किट पहनकर मतदान कर सकेगा, परन्तु उसे इसकी पूर्व सूचना पर्याप्त समय रहते देनी होगी। पीपीई किट की व्यवस्था मतदाता को स्वयं करनी होगी। कोविड-19 संक्रमित व्यक्ति सबसे आखिर में मतदान कर सकेंगें। इसके अलावा मतदान केन्द्रों में सोशल डिस्टेंसिंग, सेनेटाईजेशन इत्यादि की पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी। पंचायत चुनाव में प्रत्येक मतदान केन्द्र में स्वास्थ्य कर्मी तैनात रहेगें।

पर्याप्त मात्रा में रिजर्व टीम रखी जाएगी

राज्य निर्वाचन आयोग ने कहा कि मतदान सम्पन्न कराने के लिए मतदान दलों की कमी नही होनी चाहिए इसलिए अतिरिक्त लोगों को प्रशिक्षित कर पर्याप्त मात्रा में रिजर्व टीम तैयार रखे जाएंगे। यदि मतदान दल में शामिल किसी भी व्यक्ति को थोड़े भी लक्षण जैसे सर्दी, खांसी, जुखाम, बुखार इत्यादि हो तो उन्हे राहत दिया जाएगा। अतिरिक्त कर्मियों को प्रशिक्षण देकर तैयार करें ताकि निर्वाचन कार्य में किसी भी प्रकार की बाधा ना आये। मतदान दल में शामिल सभी लोगों का पूर्ण वैक्सीनेशन होना अनिवार्य है यदि इनमें बूस्टर डोज के पात्र कर्मी हों तो वे बूस्टर डोज भी लगवाया जाएगा।

सभा, रैली, जुलूस पर प्रतिबंध

आयोग ने जिला निर्वाचन अधिकारी निर्देश दिये की आयोग को हर जरूरी रिपोर्ट समय पर भेजना सुनिष्चित करें। यदि जमीनी स्तर पर किसी भी प्रकार की दि-त आये तो आयोग को तत्काल सूचित करें। इसके अलावा अभ्यर्थियों के प्रचार प्रसार के संबंध में भी आयोग द्वारा अतिरिक्त गाईडलाईन जारी की गई है, जिसके तहत सभा, रैली, जुलूस तथा एैसी कोई भी एक्टिविटी जिसमें भीड़ एकत्रित होने की संभावना हो, पर प्रतिबंध लगाया गया है। आयोग ने कहा कि निर्वाचन कार्य में लगे अधिकारी इन सभी बातों पर ध्यान रखें यदि कोई गाईडलाइनों का उलंघन करते पाया जाता है तो उस पर आवश्यक कार्यवाही भी करें।

मतपत्रों के रंग भी निर्धारित

उप चुनाव में मतदान मतपत्र एवं मत पेटी के माध्यम से होगा। पंच पद के लिए सफेद ,सरपंच पद के लिए नीला है। इस उपचुनाव में जनपद सदस्य व जिला पंचायत सदस्य के लिए चुनाव नहीं होगा। क्योंकि जिले में जनपद व जिला पंचायत सदस्य के एक भी पद खाली नहीं है।

वोटिंग के लिए 18 प्रकार के दस्तावेज मान्य

छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा मतदाता, पहचान पत्र के रूप में इन दस्तावेजों के इस्तेमाल की मंजूरी है। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा प्रदाय किया गया मतदाता परिचय पत्र अर्थात ईपिक कार्ड, बैंक डाकघर फोटोयुक्त पासबुक, पासपोर्ट, पैन कार्ड, आधार कार्ड, राज्य केन्द्र सरकार, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम या स्थानीय निकाय द्वारा उनके अधिकारी एवं कर्मचारियों को जारी किया गया फोटोयुक्त सेवा पहचान-पत्र, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, मनरेगा जॉब कार्ड , फोटोयुक्त स्वास्थ्य बीमा योजना (स्मार्ट) कार्ड, ड्रायविंग लायसेंस, स्वतंत्रता सेनानी फोटोयुक्त पहचान-पत्र, केन्द्रीय अथवा राज्य माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा जारी दसवीं एवं बारहवीं की फोटोयुक्त अंकसूची।, बार काउंसिल द्वारा अधिवक्ताओं को जारी फोटोयुक्त परिचय पत्र, फोटोयुक्त दिव्यांगता प्रमाण-पत्र, छत्तीसगढ़ शासन द्वारा जारी वैध फोटोयुक्त राशन कार्ड, महाविद्यालय अथवा विद्यालय द्वारा जारी फोटोयुक्त छात्र पहचान-पत्र, फोटोयुक्त शस्त्र लायसेंस, छ0ग0 राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा तैयार साफ्टवेयर एस ई सी-ई आर द्वारा आनलाईन जनरेटेड मतदाता पहचान पर्ची।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local