बीते साल के बजट में जिले को कुछ ज्यादा नसीब नहीं हुआ था,लेकिन इस वर्ष लोग काफी उम्मीद कर रहे है। इसमें प्रमुख रुप से इंजीनियरिंग व मेडिकल कॉलेज शामिल हैं। खास बात यह है कि एनएसयूआई जिलाध्यक्ष अध्यक्ष विकास केसरी ने कांग्रेस के तत्कालीन अध्यक्ष राहुल गांधी से मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज की मांग कर चुके हैं।

यह मामला वर्ष 2018 का है। जब राहुल गांधी विधानसभा चुनाव में मोहम्मद अकबर का प्रचार करने कवर्धा पहुंचे थे। तब कांग्रेस के युवा विंग ने उनसे मुलाकात की थी। अब देखना है कि वर्तमान में प्रदेश के बजट में कवर्धा को इंजीनियरिंग व मेडिकल कॉलेज की सौगात मिलता है कि नहीं। इस पर सबसे ज्यादा कयास लगाए जा रहे है। वहीं दूसरी ओर 15 वषोर् से भाजपा की सरकार प्रदेश में रही है। तब प्रदेश के मुखिया डॉ. रमन सिंह का कवर्धा खुद का जिला था,ऐसे में 15 वर्षो में जिले के विकास में अच्छा काम हुआ था। वहीं कुछेक के लिए बजट की कमी थी।

राज्य के बजट में जिले को यह है उम्मीद

स्पोर्ट्स काम्पलेक्स

कबीरधाम जिले का बीते दो वर्षो में खेल के क्षेत्र में जर्बरदस्त प्रदर्शन रहा है। यहां से करीब 200 से अधिक युवा नेशनल खेल कर आ चुके हैं। ऐसे में युवाओं द्वारा हमेशा खेल को लेकर कोई न कोई मांग की जा रही है। पूर्व में खिलाड़ियों ने करपात्री स्टेडियम में हाइमाक्स लाइट की मांग की थी। इस पर नगर पालिका अध्यक्ष ऋषि शर्मा ने युवाओं का साथ दिया। तब जाकर स्टेडियम में करीब 31 लाख रुपए का हाइमाक्स लाइट लगाई गई। अब खिलाड़ी जिले में स्पोर्ट्‌स कॉम्पलेक्स की मांग कर रहें,ताकि उन्हें और सुविधा मिल सके।

शिक्षा के लिए नए स्कूल और भवन जरुरी

जिले में मेडिकल व इंजीनियरिंग कॉलेज के साथ ही स्कूली शिक्षा के लिए विशेष जोर देने की आवश्यकता है। स्थिति ऐसी है कि कई गांव में स्कूल ही नहीं है। ऐसे में आज भी बच्चे दूसरे गांव में जाकर शिक्षा ले रहें है। ग्रामीणों द्वारा कई बार स्कूल भवन की मांग की गई। लेकिन इस ओर कोई भी ध्यान नहीं दिया गया। कई गांव में हाई व हायर सेकंडरी स्कूल भी नहीं है,जबकि उन गांव में बधाों की संख्या ज्यादा है। स्कूल नहीं होने के कारण बधो पढ़ाई से दूर हो जाते है। इसी प्रकार जिले के सबसे बड़े पीजी कॉलेज में कई प्रकार के रोजगारमुखी पाठ्यक्रम खोले जाने की जरुररत है।

सकरी नदी में पुल निर्माण जरुरी

कवर्धा शहर के बिलासपुर मार्ग पर स्थित सकरी नदी में पुल निर्माण सबसे ज्यादा जरुरी है। इसे लेकर कई बार घोषणा की गई। हाल में तो राज्य शासन द्वारा शहर के सकरी नदी पर उधा स्तरीय पुलमय पहुंच मार्ग के लिए 11 करोड़ 36 लाख रुपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है। प्रशासकीय स्वीकृति मिलने से जिलेवासियों की बहुप्रतिक्षित मांग पूरी हो गई है। प्रशासकीय स्वीकृति मिलने के उपरांत पुल निर्माण का कार्य शुरू करने प्रमुख अभियंता कार्यालय रायपुर द्वारा टेंडर का प्रकाशन किया जाएगा। यह राशि वर्ष 2017-18 के बजट में शामिल जिला कबीरधाम के रायपुर-बिलासपुर मार्ग के किलोमीटर 244/10 में स्थित सकरी नदी पर पुलमय पहुंच मार्ग निर्माण के लिए स्वीकृत की गई है। वर्तमान समय में बाढ़ आने की स्थिति में लोग समनापुर स्थित पुल से होकर गुजरते हैं। लेकिन अभी तक निर्माण नहीं हुआ है।

Posted By: Nai Dunia News Network