बरबसपुर । विज्ञानी पद्घति से केले की पैदावार में जिले के किसान जुट गए हैं। ग्रामीण अंचल के किसान केले की फसल लेने की तैयारी कर रहे हैं। विकासखंड कवर्धा के ग्राम सारंगपुर खुर्द के किसान महादेव ठाकुर ने बताया कि केले की पैदावार करने में अच्छे आमदनी होता है, इसलिए केले की ही पैदावार करने लग गए हैं। वर्तमान में उन्होंने 2800 केले के पौधे खरीदे हें, जो एक नग 18 रुपये पड़ा है। कुल लागत 50 हजार 400 रुपये का बजट है, जो 3 एकड़ में वैज्ञानिक तरीके से केले पौधे को लगाने का कार्य कर रहे हैं।

बता दें कि जुलाई-अगस्त में केले की फसल ले रहे हैं, जिसमें गर्मी में पौधा तैयार होकर फल-फूल लग जाते हैं। केले की फसल तैयार करने के लिए यूरिया, डीएपी, सुपर फास्फेट व पोटाश खाद का उपयोग किया जाता है। उन्होंने बताया कि केले दो प्रकार के होते हैं। पहला कधाा केला व दूसरा पका केला के रूप में प्रयोग किया जाता है। कच्चा केला दस से बीस रुपए किलो तक बिकता है। वहीं पके केले का उपयोग फल के रूप में किया जाता है। इसका उपयोगपूजा-पाठ धार्मिक आयोजन में किया जाता है। बाजार में एक दर्जन 30 से 40 रुपये तक बिकता है। उन्होंने आगे बताया कि केले के पेड़ और पत्ते से खाने-पीने की सामग्री का निर्माण किया जा सकता है। केले के पेड़ और पत्ते से रस्सी निर्माण, थाली, गिलास, बैग, थैला, कटोरी कप भोजन करने के लिए सामग्री तैयार किया जा सकते हैं।

घुघरी में पारंपरिक खेलों का आयोजन

कवर्धा । छत्तीसगढ़ की पारंपरिक हरेली त्योहार के उपलक्ष्य में ग्राम घुघरी कला में गंगोत्री योगी अध्यक्ष जिला महिला कांग्रेस कमेटी कवर्धा के नेतृत्व में पारंपरिक खेल खो-खो, फुगड़ी, कुर्सी दौड़, स्टेशन गेम, नारियल फेक प्रतियोगिता हुई। सीमा अनंत ने मंच संचालन एवं आभार प्रकट किया।

गंगोत्री योगी ने कहा कि श्रावण मास शुक्ल पक्ष अमावस्या के दिन पूरे छत्तीसगढ़ में सभी किसान भाइयों एवं माताएं, बहनें, बच्चे इस हरेली त्यौहार को बड़े धूमधाम से मनाते हैं। इसमें हल की पूजा की जाती है। गौ माताओं को 7 प्रकार के अनाजों का आटा

बनाकर लोंदी खिलाया जाता है। कृषि उपकरणों की पूजा की जाती है। माताएं व बहने झूला झूलती हैं, बच्चे गेड़ी का मजा लेते हैं।

उन्होंने कहा कि भूपेश सरकार द्वारा हमारे छत्तीसगढ़ के परंपरागत त्योहारों को प्राथमिकता दी जा रही है। वहीं छत्तीसगढ़ सरकार की गोधन न्याय योजना से ग्रामीण महिला समूह की आर्थिक स्थिति में बहुत सुधार आया है। कार्यक्रम में गंगोत्री योगी जिला महिला अध्यक्ष, सीमा अनंत पूर्व जिलापंचायत अध्यक्ष, तारनी ठाकुर जिला महिला उपाध्यक्ष, ललिता कुर्रे जिला उपाध्यक्ष, पार्वती सोनी जिला कोषाध्यक्ष, सेवती साहू लोहारा ब्लाक अध्यक्ष, मंजू बांगली जनपद उपाध्यक्ष, तुलसी योगी, रीतू योगी, नर्मदा योगी, मनीषा उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close