कवर्धा। (ब्यूरो )। जिला मुख्यालय का दर्जा प्राप्त कबीरधाम को 14 वर्ष से अधिक हो गया है, लेकिन नगर के अंदरूनी मागोर् पर प्रसाधन की कमी नगरवासियों को राह चलते झेलनी पड़ रही है। वहीं दूर दराज से आए महिलाओं को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

बस स्टैंड के समीप गार्डन से लगे महिला प्रसाधन बनाया गया था इसे भी तोड़ दिया गया है। इससे महिलाओं को प्रसाधन के लिए काफी परेशानियां उठानी पड़ रही है। बस स्टैंड जैसे अति व्यस्तम सामुदायिक परिसर में लोग मात्र सुलभ के सहारे प्रसाधन करते हैं। इनके अलावा शहर के अन्यत्र हिस्सों में दुर्गंध का ही प्रदूषण फैला हुआ है। लोगों को संक्रमित करते सार्वजनिक खुले स्थल ही प्रसाधन का ठिकाना बन गए है। एकता चौक में नगर पालिका द्वारा निर्मित मूत्रालय में साफ-सफाई के प्रति संबंधित विभाग द्वारा ध्यान नहीं दिए जाने के कारण लोगों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है। यहां की गंदगी और बदबू से लोग आते जाते परेशान हो रहे हैं। आसपास के मोहल्लेवासियों एवं राहगीरों को सुविधा प्रदान करने की दृष्टि से एकता चौक में महात्मा गांधी वाचनालय के पास पालिका द्वारा मूत्रालय का निर्माण लगभग 4 साल पहले काराया गया है। लोगों ने बताया कि इस दरमियान विभाग द्वारा साफ सफाई व रख रखाव के प्रति उदासीन रहने के कारण यह धीरे-धीरे अनुपयोगी साबित होने लगा है। नवीन बाजार चौंक बस स्टैंड से आने वालों के लिए यह महत्वपूर्ण सुविधा हो सकती है। जो राजमहल चौक, मठपारा व कचहरी पारा, गुप्ता पारा, देवांगन पारा, सिविल लाईन के साथ दूरस्थ क्षेत्र के रहवासी है। ज्ञातव्य है कि यहां महिला व पुरूषों के लिए अलग-अलग खंड बनाए गए हैं। लेकिन साफ सफाई के संबंध में दोनों खंड उपेक्षित है। लोगों ने स्थानीय प्रशासन का ध्यान आकृष्ट करते हुए त्वरित कार्रवाई की मांग की है। लोगों का मानना है कि इस संबंध में कार्रवाई होने से प्रमुख प्राथमिक शाला व नवीन स्कूल के बीच वाली गली में खुले में यूरिन करने वालों में कमी आएगी तथा शासकीय आदर्श कन्या विद्यालय आने जाने वाली छात्राओं की असुविधा भी दूर होगी। यहां यह बताना लाजिमी है कि ओर छोर में स्थित नगर के प्रसाधन गृह अब पूरी तरह जर्जर हो चुके हैं। करोड़ों रूपए का निर्माण कार्य कराने वाले पालिका प्रशासन की इतनी सुध नहीं रह गई है कि नगरवासियों के लिए कम से कम दो चार प्रसाधन व्यवस्था उपलब्ध करा दे। वर्तमान में बढ़ती आबादी को देखते हुए सुलभ के अतिरिक्त वार्डो में प्रसाधन गृहों की आवश्यकता है।

वर्सन

सफाई कर्मचारियों द्वारा प्रसाधन गृहों की साफ-सफाई की जाती है इसके लिए निर्देश भी दिए गए है ।

अमिताभ शर्मा, सीएमओ नगरपालिका कबीरधाम

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local