कवर्धा। नईदुनिया न्यूज

राजनांदगांव लोकसभा के सांसद संतोष पांडेय जिले के एक दिवसीय प्रवास के दौरान ग्राम बेंदा पहुंचे। जहां पांडेय ने मृतक हरिचंद के माता-पिता व उनकी पत्नी से मुलाकात की। इस दौरान पीड़ित परिवार ने रोते बिलखते हुए सांसद को आप बिती बताई। परिजनों ने चिल्फी पुलिस व राज्य सरकार पर बैगा परिवारों पर ज्यादती करने का आरोप लगाया।

मृतक के पिता ननकू सिंह ने सांसद को बताया कि बेटे को मृत हुए एक महीने बीतने वाला है, लेकिन आज तक उनको न्याय नहीं मिला है। बेटे की मौत के जिम्मेदार किसी अधिकारी पर न तो एफआइआर हुआ है और न ही पीडितों को कोई मुआवजा मिला है। इसके अलावा नहीं इतने दिन बाद सरकार के विधायक व मंत्रियों को इस मामले को लेकर संज्ञान लेने की फुर्सत है। पीड़ितों ने बताया कि मृतक बेटे की नन्ही सी बेटी है, बेसहारा पत्नी है। उनके लिए जिवन निर्वाह के लिए रोजगार, नौकरी, मुआवजा कुछ तो उपलब्ध होना चाहिए। सांसद श्री पांडे ने परिजनो को दुख की घडी में हर संभव मदद करने का भरोसा दिलाया। श्री पांडेय ने कांग्रेस सरकार व मंत्रियों को आडे हाथ लेते कहा कि सरकार अभी सत्ता के मद् में मदहोष है इसलिए क्षेत्र के बैगा आदिवासियों पर हो रहे जुल्म और ज्यादतियों से बेखबर है। उन्होने इस पूरे घटनाक्रम में सरकार को जिम्मेदार ठहराया। उन्होने कहा कि सरकार आबकारी व पुलिस अधिकारियों को बचाने में जुटी हुई है। इसलिए तो अब तक दोषियों के विरूद्व एफआईआर नहीं की गई है। पांडे ने परिवार वालों को बताया कि वे इस मामले को लोकसभा में पुरजोर तरीके से उठाया है। जब तक पीडित परिवार को न्याय नहीं मिल जाती तब तक दुखी परिवार के साथ खड़े रहेगें।

ज्ञात हो कि जिला आबकारी विभाग के अधिकारियों द्वारा अवैध शराब बेचने के आरोप में हरिचंद बैगा पिता ननकू बैगा (26) ग्राम बेंदा को 24 जुलाई 2019 को उठा लाए थे। जिनकी मौत आबकारी कस्टडी में हो गई थी। इसी मामले को लेकर सांसद ने शुक्रवार को परिजनों से भेंट की। इस मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष रामकुमार भट्ट, उपाध्यक्ष नितेश अग्रवाल, कैलाश चंद्रवंशी, विजय पांडेय सहित बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।