कवर्धा। नईदुनिया न्यूज

सरकारी नौकरी में उम्र में दो वर्ष की छूट और 10 प्रतिशत आरक्षण लेकर एनसीसी कैडेट्स ने मंगलवार को शहर में रैली निकाली और अपनी मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। प्रदर्शन में जिलेभर के एनसीसी कैडेट्स शामिल हुए। रैली शहर भ्रमण कर जिला कार्यालय पहुंची। प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे पूर्व सीनियर अंडर ऑफिसर मुकेश सिंह धुर्वे ने बताया कि कैडेट्स को 10 प्रतिशत आरक्षण और उम्र में दो साल की छूट देने के मामले में मध्यप्रदेश, बिहार और राजस्थान में भी प्रदर्शन किया जा चुका है।

उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ में इसकी शुरुआत राजानांदगांव से की गई है। मंगलवार के प्रदर्शन में करीब 200 कैडेट्स शामिल हुए थे। मांगों में प्रमुख रूप से शासकीय नौकरी में एनसीसी कैडेट्स को उम्र में दो वर्ष की छूट साथ 10 प्रतिशत सीट पर आरक्षण में प्राथमिकता देने। भारतीय सेना में अधिकारी रैंक के पदों पर चयन के लिए एनसीसी स्पेशल एंट्री के लिए सीट कैडेटों की संख्या के अनुपात के नाम मात्र है, इसे बढ़ाने छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा भी एनसीसी कैडेटों के लिए पुलिस स्पेशल एंट्री का प्रावधान करने।

भर्ती प्रक्रिया देने की मांग

केंद्र सरकार की पैरामिलिट्री की भर्तियों में एनसीसी कैडेटों को छूट नहीं के समान है इसे बढ़ाने, भारतीय सेना की तरह एनसीसी कैडेट्स को सभी शासकीय नौकरियों में सी सर्टिफिकेट वाले को प्राथमिकता देने, एनसीसी कैडेट्स एसडी/डब्लू को 3ः2 के अनुपात में आरक्षण दिलाने, एनसीसी छात्रा के लिए अलग से कोई भर्ती नहीं आती है। इसमें अलग से भर्ती प्रक्रिया देने की मांग शामिल है। इसके बाद भी सरकारी नौकरियों में एनसीसी सर्टिफिकेट दिखाने पर महज दो प्रतिशत छूट मिलती है, जबकि कैडेट सरकार के स्वच्छता अभियान, ट्रैफिक जागरुकता अभियान सहित हर अभियान में सहभागिता निभाते हैं। सेवा के कार्यों में तत्पर रहते हुए लोगों को जागरूक करते हैं। अनुशासित रहते हुए समाज में एक नया संदेश देते हैं। इसके बाद भी उपेक्षा की जा रही है।

चुनौतियों का करते हैं सामना

पूर्व एनसीसी कैडेट बताया कि छात्र-छात्राएं उत्साह के साथ एनसीसी ज्वॉइन करते हैं और हर चुनौतियों का सामना करते हैं। इसके बाद भी सरकारी नौकरी में तवज्जों नहीं दी जाती। राज्य सरकार से आरक्षण में बढ़ोत्तरी की मांग की गई है। ताकि इसका लाभ मिल सके।

Posted By: Nai Dunia News Network