कवर्धा। नईदुनिया न्यूज

नगर के सरदार पटेल मैदान कवर्धा में मंगलवार को पूर्ण ईसर गवरा की महापूजन एवं महापर्व बड़ी हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस दौरान गोंड समाज द्वारा 12 नवंबर को सतरंगी झंडे एवं जयघोष की जयकारे के साथ पूर्ण ईसर गवरा की भव्य विशाल शोभायात्रा निकाली गई। वहीं सुबह समाज के लोगों ने झूमते नाचते हुए बैंड बाजे के साथ पूर्ण ईसर गवरा को पूजा अर्चना कर नगर भ्रमण करते हुए महामहामाया मंदिर, अंबेडकर चौक, राधा कृष्ण मंदिर तालाब में विधिवत सरोवर स्नान किया गया। इस मौके पर पूर्ण ईसर गवरा विसर्जन के दौरान देखने के लिए लोगों की भारी भीड़ बनी रही।

पूर्ण ईसर गवरा कार्यक्रम में शामिल हुए लोग

कवर्धा शहर में प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी गोंड समाज के महिला और पुरूष एवं बुजुर्गो ने पूर्ण ईसर गवरा को सरदार पटेल मैदान में 11 नवंबर को धूमधाम के साथ मनाई गई। इस महापूजन एवं महापर्व कार्यक्रम में समाज के श्रद्घालुओं ने रात भर दस्तक देकर पूरे विधि-विधान के साथ पूर्ण ईसर गवरा की पूजा अर्चना कर अपने पूरे परिवारों के लिए सुख समृद्घि की मनोकामना की गई।

सांस्कृतिक कार्यक्रम में बच्चों की रही धूम

सरदार पटेल मैदान कवर्धा में गोंड समाज द्वारा एक दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान 11 नवंबर को रात्रि में भव्य कार्यक्रम का आयोजन रखा गया था। इस मौके में समाज के स्कूली बच्चों ने बढ़-चढ़कर सांस्कृतिक कार्यक्रम में हिस्सा लिया। वहीं स्कूली बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम की मनमोहक प्रस्तुति भी दी। साथ ही पूर्ण ईसर गवरा महापर्व में महिलाओं ने भी भाग लेकर रात्रि में सुआ नृत्य एवं पूर्ण ईसर गवरा गीत की प्रस्तुति दी गई। कवर्धा जिले के सभी ब्लाकों से आए हुए श्रद्घालुओं ने पूरे परिवार के साथ उपस्थित होकर कार्यक्रम की आनंद उठाया।

कार्यक्रम में रहा बिना धोती प्रवेश वर्जित

कार्यक्रम में समाज के लोगों ने नियमानुसार इस महापूजन एवं महापर्व पूर्ण ईसर गवरा कार्यक्रम में बाहर के लोगों को धोती की पोषाक में पहनकर शामिल होने के लिए प्रेरित कर इस कार्यक्रम में बिना धोती पहने प्रवेश करना वर्जित किया गया। इससे समाज के हर व्यक्ति धोती में ही नजर आए हुए थे। वहीं इस कार्यक्रम में बाहर से कोई भी व्यक्ति जीस या अन्य पोषाक पहनकर घुसना मनाकर प्रवेश वर्जित किया गया।

Posted By: Nai Dunia News Network