कवर्धा। शहर के 11 परीक्षा केंद्रों में रविवार को छत्तीसगढ़ शिक्षक पात्रता (टीईटी) की परीक्षा आयोजित की गई। कोरोना संक्रमण के दौर में यह परीक्षा व्यापंम द्वारा आयोजित की गई थी। इस परीक्षा के लिए आठ हजार से अधिक लोगों ने आवेदन किया था, जिसमें करीब दो हजार से भी ज्यादा परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। कोरोना गाइड लाइन का पालन कर परीक्षा का आयोजन किया गया। रविवार को दो पालियों में परीक्षा आयोजित की गई। प्रथम पाली का समय सुबह 9.30 से 12.15 बजे तक निर्धारित की गई थी। इसमें 4347 परीक्षार्थी शामिल होने थे। इसके लिए 11 केंद्र बनाए गए थे। इसी प्रकार द्वितीय पाली का समय 2 से 4.45 बजे तक निर्धारित था जिसमें 3680 परीक्षार्थी ने आवेदन किया था। इसके लिए भी 11 केंद्र बनाए गए थे। नोडल अधिकारी व डिप्टी कलेक्टर रेखा चंद्रा ने बताया कि संयुक्त भर्ती परीक्षा की मॉनिटरिंग के लिए उडनदस्ता, अन्य टीम भी गठित की गई थी। यह परीक्षा शांतिपूर्ण संपन्ना हुई।

केंद्रों में एक घंटे पहले पहुंचे अभ्यर्थी

इस परीक्षा को लेकर पहले से जिला प्रशासन ने तैयारी पूरी कर ली थी। अभ्यर्थी परीक्षा के एक घंटे पहले ही परीक्षा केंद्र पहुंच गए थे। परीक्षा प्रारंभ होने के आधा घंटा पहले केंद्र के भीतर प्रवेश दिया गया। इस दौरान परीक्षा भवन में मोबाइल, इलेक्ट्रानिक वॉच, पर्स, पाउच या कम्पास बाक्स भीतर ले जाना प्रतिबंधित था। सभी परीक्षार्थियों को उत्तर पत्रक ओएमआर शीट में सही विकल्प भरने के निर्देश दिए गए थे। उत्तर पत्रक में चाही गई किसी भी सूचना परीक्षार्थी द्वारा गलत भरे जाने पर परीक्षार्थी स्वंय उत्तरदायी होगा। परीक्षा भवन में परीक्षा से संबंधित अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अतिरिक्त किसी को भी प्रवेश नहीं दिया गया। जो परीक्षार्थी दोनों पाली की परीक्षा में शामिल हुए वे प्रवेश पत्र की छायापत्रि दोनों पालियों के लिए पृथक-पृथक लाए थे।

दिसंबर में भराए गए थे फार्म

छत्तीसगढ़ व्यावसायिक परीक्षा मंडल रायपुर ने शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) के लिए आनलाइन फार्म भरने 19 दिसंबर को अंतिम दिन निर्धारित किया था। लेकिन दिसंबर माह में सर्वर ठप होने की वजह से सैकड़ों अभ्यर्थी परीक्षा फार्म नहीं भर पाए थे। रविवार को हुए परीक्षा में एक से पांचवीं तक अध्यापन के लिए प्रथम पाली में परीक्षा सुबह 9 बजे से 12 बजे तक। 6वीं से आठवीं तक की कक्षाओं में अध्यापन के लिए दोपहर 2 से 4ः45 बजे तक परीक्षा हुई। यह परीक्षा 22 मार्च 2020 को आयोजित था। इसके लिए 14 फरवरी से एक मार्च 2020 तक आवेदन लिए गए थे लेकिन कोरोना को देखते हुए राज्य शासन ने परीक्षाएं स्थगित कर दी थी।

गणित के प्रश्नों ने किया परेशान

इस परीक्षा में गणित के प्रश्नों ने परीक्षार्थियों को काफी परेशान किया। यहीं नहीं आंकड़ों और जोड़ी मिलाओं के प्रश्नों ने पूरी तरह से उलझाकर रख दिया। दूसरी ओर शिक्षा संबंधित प्रश्न ने परीक्षार्थियों को काफी राहत दी। हिंदी, अंग्रेजी के प्रश्न भी काफी सरल थे। प्रश्नों को हल करने में परीक्षार्थियों को ज्यादा परेशानी नहीं हुई। परीक्षा नेगेटिव अंक का प्रावधान नही थे।

केंद्र के बाहर इंतजार करते रहे स्वजन

शहर में परीक्षा के चलते अच्छी खासी भीड़ रही। स्वजन भी अपने बच्चों के साथ केंद्र तक पहुंचे थे। ज्यादातर परीक्षा केंद्र कवर्धा शहर के भीतर ही थे। दो-तीन परीक्षा केंद्र शहर के बाहर थे। प्रमुख परीक्षा केंद्र पीजी कालेज था। यहां करीब 700 परीक्षार्थी के बैठने की व्यवस्था थी। इसके अलावा पास के ही करपात्री स्कूल, कन्या स्कूल में भी केंद्र थे। इस कारण इन केंद्रों के आसपास अच्छी खासी भीड़ रही।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local