कोंडागांव (नईदुनिया न्यूज)। कुछ ही दिनों में होने वाले भानुप्रतापपुर उपचुनाव के बीच कोंडागांव में पुलिस ने जाली नोट गिरोह को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपितो के कब्जे से 500 रूपये का 13 नग नकली नोट, 200 रूपये के नकली नोट, और 03 नग मोबाइल एवं मोटर साइकल बरामद किया। इसमें से एक आरोपी ओडिशा व अन्य एक आरोपी छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले का रहने वाला है। पुलिस को शक है कि यह जाली नोट चुनाव के लिए हो सकता है। फिलहाल पुलिस आरोपितों से पुछताछ कर अलग-अलग एंगल से जांच कर रही है।

दरअसल, बीते दिनों जिले के केशकाल ब्लाक अंतर्गत आने वाले कुछ गांवों से जाली नोट मिलने की शिकायतें आई थी। जाली नोट मिलने की घटना को देखते हुए कोंडागांव पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल ने जाली नोट गिरोह के सदस्यों को तत्काल गिरफ्तार करने के आदेश दिए थे। इसपर एडिशनल एसपी कोंडागांव शोभराज अग्रवाल के मार्गदर्शन व एसडीओपी केशकाल भूपत सिंह धनेश्री के पर्यवेक्षण में टीम गठित कर नकली नोट के कारोबार के खिलाफ अभियान चलाया। इसमें संलिप्त आरोपित असगर अली उम्र 54 वर्ष साकिन रेल्वे स्टेशन के पास जयपुर जिला -कोरापुट (उड़िसा), और नब्बूखान उम्र 37 वर्ष, निवासी शीतला पारा कांकेर हाल पता -महादेव वार्ड, साई गली, कांकेर जिला को गिरप्तार किया।

प्रार्थी रोहित कुमार कौशिक ने थाना धनोरा मे रिपोर्ट दर्ज कराया कि, दीपावली के समय ग्राम बिंझे स्थित उसके फर्नीचर दुकान में 500 के 02 नोट नकली जैसा मिला। तब वो गांव में अन्य लोगों से चर्चा करने पर गांव के अनील आंचले का किराना दुकान में 500 के 02 नोट, जुनू राम मरापी के किराना दुकान में 500 के 01 नोट, एवं साप्ताहिक बाजारों में सब्जी बेचने वाला नरसू नाग के पास में 500 के 02 नोट नकली मिला। इन सभी के पास किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा सामान खरीदने के बदले में असली नोट के साथ -साथ नकली नोट दिया गया। शिकायत पर पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध किया था। संपूर्ण कार्यवाही में निरीक्षक राजेंद्र मंडावी थाना प्रभारी इरागांव, उपनिरीक्षक मुकेश शर्मा प्रभारी साइबर सेल, उपनिरीक्षक प्रहलाद यादव साइबर सेल, सहायक उपनिरीक्षक पीतांबर कठार सहित विभागीय अमला मौजूद रहा।

Posted By: Abhishek Rai

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close