कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। एक बार फिर जिले में दस मजदूरों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें चार चोरभट्ठी, तीन पसान, अमगांव के दो व पचरा का एक मजदूर शामिल है। चोरभट्ठी को छोड़ कर पिछले सप्ताह शेष तीन क्वारंटाइन सेंटर से संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। संभावना जताई जा रही है कि एक साथ रहने से ही संक्रमण फैला। सभी लोगों को कोविड हॉस्पिटल कोरबा भेजा गया। दो दिन के भीतर जिले में 50 संक्रमित मिल चुके हैं।

जिले में शुक्रवार को 40 संक्रमित मिलने के बाद शनिवार को दोपहर तीन और रात को सात मजदूरों के कोरोना पॉजिटिव होने की रिपोर्ट एम्स रायपुर ने जारी की। पाली ब्लॉक अंतर्गत अमगांव क्वारंटाइन सेंटर में कुल 30 प्रवासी श्रमिकों को ठहराया गया है। इनमें अधिकांश महाराष्ट्र, गुजरात एवं दिल्ली से लौटे हैं। ठाणे महाराष्ट्र से 22 मई को बस से आए पाली विकासखंड के बंधियापारा सिल्ली निवासी 20 वर्षीय युवक और जिल्गा बरपाली निवासी एक 21 वर्षीय युवक को ठहराया गया था। दो जून को कोरोना जांच के लिए दोनों प्रवासी श्रमिकों के मुंह एवं नाक का स्वाब सैंपल लेकर एम्स रायपुर भेजा गया था। शनिवार को आई रिपोर्ट में दोनों मजदूर पॉजिटिव पाए गए। उधर पोड़ी-उपरोड़ा विकासखंड के पचरा क्वारंटाइन सेंटर में भी एक युवक की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। यह युवक 28 मई को दिल्ली से यहां पहुंचा था, जिसे प्रशासन ने एहतियातन क्वारंटाइन किया था। रात करीब नौ बजे एम्स से आई रिपोर्ट चोरभट्ठी क्वारंटाइन सेंटर के चार संक्रमित मिले। इस सेंटर से पहली बार पॉजिटिव रिपोर्ट आई है। उधर पसान क्वारंटाइन सेंटर में तीन मजदूरों के संक्रमित निकलने से एक बार फिर क्षेत्र में हड़कंप मच गया। मेडिकल टीम और वरिष्ठ अधिकारी तत्काल सेंटरों में पहुंच संक्रमित मजदूरों को एंबुलेंस से कोविड हॉस्पिटल कोरबा भेज दिया है। इसके साथ ही इन युवकों की कॉन्टेक्ट हिस्ट्री का पता स्वास्थ्य विभाग लगा रहा है। इन दोनों सेंटरों को सैनिटाइज करने और बैरिकेड कर इलाके में किसी भी प्रकार की आवाजाही पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है।

सेंटर के सभी मजदूरों का पुनः सैंपलिंग

पाली विकासखंड के अमगांव तथा पोड़ी-उपरोड़ा विकासखंड के पचरा तथा पसान क्वारंटाइन सेंटर में इसके पहले भी संक्रमित निकल चुके हैं। इसके बाद प्रशासन ने सैनिटाइज कर सभी मजदूरों का पुनः सैंपल लेकर परीक्षण के लिए एम्स रायपुर भेजा था। रिपोर्ट में तीनों स्थान पर पॉजिटिव मिलने से संभावना जताई जा रही है कि पुराने संक्रमितों के कारण अन्य मजदूर संक्रमित हुए हैं। इन सेंटरों में शेष बचे मजदूरों का पुनः सैंपल लेकर जांच के लिए रायपुर भेजा जाएगा।

जिले में अब 70 एक्टिव, कुल 104

जिले में संक्रमितों की संख्या शतक पार कर गया। शनिवार को मिले दस मामले के साथ ही आंकड़ा 94 से बढ़कर 104 पहुंच गया है। इनमें उपचार के बाद 34 स्वस्थ होकर वापस लौट चुके हैं, जबकि शेष 70 संक्रमितों का इलाज कोरबा, बिलासपुर व रायपुर कोविड हॉस्पिटल में चल रहा है। कोरबा कोविड हॉस्पिटल की क्षमता 100 बेड की रही, पर इसे बढ़ाकर अब 135 कर दिया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना