कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहर के मुड़ापार किराना दुकान व शारदा विहार आटा चक्की सहित एक छोटा हाथी वाहन से खाद्य विभाग ने 20.50 क्विंटल चावल जब्त किया है। पीडीएस चावल शंका के आधार पर जब्त चावल को वाहन सहित मानिकपुर थाना में रखा गया है।

पीडीएस चावल के नाम पर पर शहर में जमकर अफरा तफरी चल रही है। गैर जरूरत मंद लोगों नाम पर राशन कार्ड बनाए जाने चावल घर के बजाए दुकान पहुंच रहे है। रियायत दर में 10 रुपये किलो में एपीएल कार्ड धारियों को चावल दिया है। यह चावल किराना दुकानों में 18 रुपये किलो में खरीदी की जा रही है। चावल की खरीदी और बिक्री दोनों प्रतिबंधित है। कमाई का बेहतर जरिया होने से चावल की खरीदी-बिक्री ने कारोबार का रूप ले लिया है। जिले में प्रतिमाह शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में 82 हजार क्विंटल चावल का आवंटन किया जाता है। उच्च वर्ग के लोगों ने भी गरीबी रेखा के नाम से राशन कार्ड बनवा रखा है। रियायत दर में चावल लेने सरकारी खजाने में चूना लग रहा है। बहरहाल शहर में जब्त चावल के संबंध जिला खाद्य अधिकारी जितेंद्र सिंह ने बताया कि पांच कट्टी चावल शारदा विहार के आशीर्ष आटा चक्की और सात कट्टी चावल निहारिका भारती किराना दुकान से जब्त किया गया है। इसके अलावा मुड़ापार मार्ग में छोटा हाथी से परिवहन करते हुए 27 कट्टी चावल को जब्त कर मानिकपुर चौकी के हवाले किया गया है। अधकारी ने बताया कि तीनों मामले में प्रकरण तैयार कर इसे कलेक्टर कोर्ट में प्रस्तुत किया जाएगा। इस मामले में भाजपा जिला सह संयोजक सहकारिता प्रकोष्ठ के न्याज नूर आरबी ने बताया कि पीडीएस चावल की दुकानों लगातार अफरा-तफरी की जा रही है। इसकी शिकायत लगातार प्रशासन से की जा रही थी। मामले में कार्रवाई करते हुए तीन अलग अलग स्थानों में खाद्य विभाग ने कार्रवाई की है। आरबी ने बताया कि चावल की वृहत पैमाने हेरा फेरी हो रही है, जिसमें निष्पक्षता से कार्रवाई की जरूरत है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close