कोरबा। नईदुनिया प्रतिनिधि

शैक्षणिक सत्र 2019-20 बोर्ड परीक्षा के लिए छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने जिले में दो नद केंद्र की स्वीकृति दी है। इनमें पाली ब्लॉक का कर्रानवापारा और करतला का पठियापाली केंद्र शामिल हैं। दो केंद्र के बढ़ने से जिले में अब कुल परीक्षा केंद्रों की संख्या 91 हो गई है। जारी सत्र में कक्षा दसवीं और बारहवीं बोर्ड परीक्षा में 25297 परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं। नए केंद्र में बढ़ोतरी के अलावा एकमात्र केंद्र में बदलाव किया गया है। कोरबा ब्लॉक के देवपहरी हायर सेकेंडरी स्कूल की बजाय परीक्षा केंद्र निकट के स्कूल लेमरू को बनाया गया है।

परीक्षा केंद्रों में इजापᆬा किए जाने से अधिक दूरी तय कर केंद्र पहुंचने वाले बच्चों को सहूलियत होगी। जहां तक देवपहरी परीक्षा केंद्र में बदलाव की बात की जाए तो यह निजी विद्यालय है। लेमरू सरकारी एक स्कूल है और यहां वह सभी सुविधाएं मौजूद हैं जो देवपहरी में है। सरकारी स्कूल में सुविधा होने के कारण निजी स्कूल से केंद्र हटा लिया गया है। पहले लेमरू से चलकर बच्चों को देवपहरी आना पड़ता था। अब देवपहरी के बच्चे लेमरू में परीक्षा दे सकेंगे। जहां तक नए केंद्रों की बात की जाए तो कर्रानवापारा और पठियापाली को केंद्र बनाने की लंबे समय से मांग चल रही थी। दोनों ही वनांचल क्षेत्र के स्कूल हैं। करतला ब्लॉक हाथी प्रभावित क्षेत्र है। दो पाली में होने वाली परीक्षा में शामिल होने के लिए लंबी दूरी तय करना बच्चों के लिए खतरे का सबब बना रहता है। पठियापाली केंद्र खुलने से आसपास के हाई और हायर सेकेंडरी स्कूल के बच्चों को सरगबुंदिया अथवा बरपाली केंद्र नहीं जाना पड़ेगा इस बार कक्षा दसवीं की परीक्षा में 15007 और बारहवीं में 10257 परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं। निर्धारित पाठ्यक्रम के अलावा 33 अन्य व्यावसायिक पाठ्यक्रम के परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं।

चार केंद्रों में दसवीं तक परीक्षा

माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से निर्धारित परीक्षा केंद्रों में चार ऐसे केंद्र हैं, जहां केवल दसवीं की ही परीक्षाएं आयोजित होगी। इन केंद्रों में शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गोपालपुर कटघोरा, लमना पोड़ी-उपरोड़ा, पᆬत्तेगंज करतला और कर्रानवापारा पाली शामिल हैं। माना जा रहा है कि आगामी वर्ष से इन केंद्रों में बारहवीं की भी परीक्षा शुरू हो जाएगाी। नए परीक्षा केंद्र और स्कूल खुलने से कापᆬी हद तक तक शाला त्यागी छात्र-छात्राओं में कमी आ रही है।

जुगाड़ के पᆬर्नीचर से चलेगा काम

छात्र-छात्राओं की सुविधा के लिए जिले में परीक्षा केंद्र में बढ़ोतरी तो की गई है, किंतु यहां बैठक की व्यवस्था अब भी दयनीय है। नए केंद्रों में जुगाड़ के पᆬर्नीचर से परीक्षा की तैयारी चल रही है। एक स्कूल से दूसरे स्कूल ले जाते समय कई पᆬर्नीचर क्षतिग्रस्त हो जाते हैं। ऐसे में कई स्कूल प्रबंधन पᆬर्नीचर ले जाने की स्वीकृति नहीं देते। जिले में ऐसे कई स्कलू हैं जहां के कक्ष पुराने पᆬर्नीचर के कबाड़ से भरे पड़े हैं।

पᆬैक्ट पᆬाइल

0 परीक्षा केंद्र- 91

0 नए केंद्र- 02

0 दसवीं के परीक्षार्थी- 15007

0 बारहवीं के परीक्षार्थी- 10257

0 व्यावसायिक पाठ्यक्रम के परीक्षार्थी- 33

जिले में दो स्कूल कर्रानवापारा और पठियापाली को नए परीक्षा केंद्र के तौर पर स्वीकृति माध्यमिक शिक्षा मंडल ने दी है। इसके अलावा देवपहरी परीक्षा केंद्र को बदल कर लेमरू किया गया है। पारदर्शिता पूर्ण परीक्षा आयोजन कराने की तैयारी की जा रही है। केंद्र में बैठक व्यवस्था के संबंध में किसी प्रकार की समस्या नहीं होगी।

- सतीश कुमार पांडेय, जिला शिक्षा अधिकारी

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket