कोरबा। नईदुनिया न्यूज

शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय छुरी का 49वां स्थापना दिवस समारोह का आयोजन राष्ट्रीय सेवा योजना छुरी इकाई के तत्वावधान में किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि पूर्व विधायक बोधराम कंवर ने कहा कि यह आयोजन विद्यालय की स्वर्ण जयंती का शुभारंभ भी है। इस अवसर पर एक स्मारिका प्रकाशित की जानी चाहिए, जिसमें स्कूल के 50 साल का स्वर्णिम इतिहास अंकित हो। उन्होंने कटघोरा विधायक की ओर से स्वर्ण जयंती हेतु अपेक्षित सहायता का आश्वासन दिया।

कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुआ। आयोजन की प्रस्तावना रखते हुए हेमंत माहुलीकर व्याख्याता शासकीय हाईस्कूल स्याहीमुड़ी ने छुरी विद्यालय में बिताए अपने 19 साल के कार्यकाल का जिक्र करते हुए याद दिलाया कि सात अक्टूबर 1970 को स्थापित इस विद्यालय के 25 वर्ष पूर्ति पर रजत जयंती का संयोजन भी आपने ही किया था। अगले वर्ष 2020 में संस्था का स्वर्ण जयंती उत्सव के आयोजन की चर्चा पिछले वर्ष से ही चल रही है। सोशल मीडिया वाट्सएप पर तत्संबंधी दो समूह की रचना भी बीते वर्ष कर दी गई। फेसबुक पर इसकी चर्चा पूर्व विद्यार्थियों की ओर से की जा रही है। आज 49वें स्थापना दिवस पर स्वर्ण जयंती मनाने हेतु योजना बनाने की विधिवत्‌ शुरुआत है, ऐसा ही माना जाना चाहिए। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे वयोवृद्ध नागरिक एवं शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय छुरी के प्रथम प्रभारी प्राचार्य रामनारायण दुबे ने सन 1970 से पूर्व विद्यालय की स्थापना संबंधी हुई कार्रवाई का स्मरण किया। उन्होंने बताया कि इस विद्यालय का भवन बोधराम कंवर के कारण ही नगर को प्राप्त हुआ। संस्था के भूतपूर्व शिक्षक एवं वर्तमान में कोरबी धतूरा के प्राचार्य वीरभद्र सिंह पैकरा एवं उतरदा की प्राचार्य रमा उमानिधि ने संस्था में अपने अध्यापन की कुछ यादें साझा की। इस अवसर पर विद्यालय के भूतपूर्व छात्र बड़ी संख्या में उपस्थित थे। जिन्होंने स्वर्ण जयंती मनाने संबंधी अपने विचार रखे। इनमें बुधराम कंवर, नरोत्तम प्रजापति, गणेंद्र भारिया, श्रीकांत भारिया ने स्वर्ण जयंती में सक्रिय सहयोग देने के लिए सब का आह्वान किया। तुषार साहू ने अपना एक पेंसिल स्केच हेमंत माहुलीकर को भेंट करते हुए अपने विचार रखे। शाला विकास समिति के सदस्य शोभना देवांगन और ए कुजूर ने इस अवसर पर कहा कि स्वर्ण जयंती की भव्यता के लिए समिति संपूर्ण सहयोग करेगी। भूतपूर्व छात्र शिव साहू ने संपूर्ण कार्यक्रम का मंच संचालन किया एवं ज्योति दुबे ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की।

स्मारिका प्रकाशन का लिया गया निर्णय

इस अवसर पर हेमंत माहुलीकर ने स्मारिका प्रकाशन का दायित्व स्वीकारते हुए स्वर्ण जयंती समारोह की आयोजन समिति हेतु एक प्रस्ताव रखा। उसके अनुसार संरक्षक बोधराम कंवर, रामनारायण दुबे, पुरुषोत्तम कंवर विधायक कटघोरा रहेंगे। आयोजन के अध्यक्ष नगर पंचायत छुरीकला के अध्यक्ष (पदेन) होंगे। सभी वार्ड पार्षद, शाला विकास समिति के सभी पदाधिकारी एवं सभी पूर्व वर्तमान शिक्षक के साथ-साथ अलग-अलग बैच के ऐसे भूतपूर्व विद्यार्थी जो वर्तमान में कोरबा जिले में ही निवासरत हैं, आयोजन समिति के सदस्य होंगे। आवश्यकता अनुसार इन्हीं में से अलग-अलग जिम्मेदारियां दी जाएगी। इस प्रस्ताव का मुख्य अतिथि बोधराम कंवर, अध्यक्ष रामनारायण दुबे एवं उपस्थित सभी भूतपूर्व विद्यार्थियों और शिक्षकों ने समर्थन किया। जिले में यह पहला अवसर है कि किसी शैक्षणिक संस्था के स्वर्ण जयंती उत्सव हेतु एक वर्ष पूर्व तैयारी प्रारंभ की जा रही है।