कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। राष्ट्रपति भवन दिल्ली में पिछले दिनों बालश्री अवार्ड का राष्ट्रीय कार्यक्रम आयोजित हुआ। देशभक्ति गीतों से फंक्शन शुरू हुआ और सर्वप्रथम देशभर से चुने गए बच्चों ने देशगान गाया। देश के प्रथम नागरिक एवं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के समक्ष ओजस्वी गीत पेश करने वाले इन नन्हें कलाकारों में कोरबा के गांव छुरी का प्रतिभावान बालक भव्य देवांगन भी शामिल था। भारतवर्ष से चयनित गायन में निपुण सर्वश्रेष्ठ 12 बच्चों के दल में शामिल रहा भव्य छत्तीसगढ़ से एकमात्र बालक है।

हर साल की तरह तय तिथि के तहत प्रधानमंत्री बालश्री अवार्ड-2019 का यह राष्ट्रीय कार्यक्रम 22 जनवरी को नईदिल्ली स्थित राष्ट्रपति भवन में आयोजित किया गया था। कला, संस्कृति, ज्ञान-विज्ञान, चित्रकला, गायन, संगीत समेत अन्य विधाओं में पारंगत बच्चों को उनकी प्रतिभा का सम्मान करते हुए यह पुरस्कार प्रदान किया जाता है। ब्लॉक से जिला, संभाग, राज्य से एक-एक कर अनेक कठिन पड़ाव पार करते हुए अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाने वाले बच्चों को यह अवार्ड प्रदान किया जाता है। इसी कार्यक्रम के आयोजन में महामहिम राष्ट्रपति के समक्ष अपनी गायन प्रतिभा का प्रदर्शन करने का अवसर प्राप्त करने देशभर के बच्चों को कठिन चुनौतियां पार कर खुद को साबित करना पड़ा। देशभर के अनगिनत बच्चों को पीछे छोड़ते हुए महज 12 होनहार बच्चों ने राष्ट्रपति के समक्ष देशगान गाने का मौका हासिल किया, जिनमें छुरी के प्रतिभावान विद्यार्थी भव्य देवांगन भी शामिल रहे।

ऐसा देश हमारा, डीडी-वन में प्रसारण

फोटो नंबर-24केओ35- भव्य देवांगन ।

देश के चुनिंदा 12 गायक बच्चों की टीम में जगह बनाने वाले भव्य देवांगन केंद्रीय विद्यालय बिलासपुर में कक्षा सातवीं के विद्यार्थी हैं। उन्होंने इस दल के साथ एक सुंदर देशभक्ति पर सामुहिक गान प्रस्तुत किया। इस गीत के बोल कुछ ऐसे थे- सतरंगी रंगो सा उज्ज्वल ऐसा पावन ऐसा देश हमारा चारों दिशाओं में लहरा रहा है अपना तिरंगा प्यारा। कक्षा सातवीं में पढ़ रहे भव्य छुरी के रहने वाले अशोक एवं प्रतिभा देवांगन के सुपुत्र हैं।

कोविंद व स्मृति ईरानी ने की प्रशंसा

इस राष्ट्रीय कार्यक्रम में पहुंचे भव्य ने अपनी टीम के साथ देशभक्ति गान प्रस्तुत कर शुरुआत की थी। बच्चों में गायन की ऐसी सुंदर एवं भव्य प्रस्तुति देश भावविभोर हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद एवं महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने प्रशंसा की। नन्हें-मुन्ने बच्चों को गीत की ऐसी प्रस्तुति से देश सभी मंत्रमुग्ध रह गए। अशोक केंद्रीय विद्यालय बिलासपुर में शिक्षक हैं और भव्य भी उसी संस्था से शिक्षा प्राप्त कर रहे। अपने पुत्र की प्रतिभा से भावविभोर माता-पिता, परिवार, शिक्षकों एवं छुरी में हर्ष का माहौल है।

नेशनल साइंस टेस्ट में आदित्य का थर्ड रैंक

फोटो नंबर-24केओ36- आदित्य कुमार गुप्ता ।

गणित-विज्ञान में विद्यार्थियों की समझ परखने के लिए यूनिफाइड काउंसिल भारत और बाहरी देशों इंडोनेशिया, कतर, यमन, ओमान, कुवैत, रूस, नेपाल, लीबिया, बहरीन, ईरान व तंजानिया में रह रहे प्रवासी भारतीयों के लिए नेशनल साइंस टैलेंट सर्च इक्जाम (एनएसटीएसई-2020) आयोजित किया गया। टेस्ट में सबसे ज्यादा नंबर प्राप्त कर टॉप-10 रहे बच्चों में कोरबा के एक छात्र ने भी जगह बनाई है। इनमें केंद्रीय विद्यालय क्रमांक-4 में कक्षा 12वीं के मेधावी छात्र आदित्य कुमार गुप्ता शामिल हैं, जिन्होंने थर्ड रैंक हासिल किया है। आदित्य बाल्को में कार्यरत संतोष कुमार गुप्ता एवं ममता गुप्ता के सुुपुत्र हैं। उसने अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता को दिया है, जिनके प्रोत्साहन के बूते उसे यह सफलता प्राप्त हुई।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020