कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। अपने घर व आस-पास बेकार लगने वाली चीजों में कुछ बेहतर खोजने की परख हो, तो वही चीजें काफी काम की बनाई जा सकती हैं। यही कौशल निखारने शिक्षा विभाग की ओर से स्कूली बच्चों एवं उनके शिक्षकों के लिए कबाड़ से जुगाड़ प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है। गुरुवार को कोरबा ब्लाक स्तरीय स्पर्धा रखी गई, जिसमें विभिन्ना स्कूल के बच्चों व उनके शिक्षकों ने अपने कौशल का प्रदर्शन कर अगले चरण में जगह बनाने जोर आजमाइश की।

राज्य अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) रायपुर की मंशा अनुरूप गुरुवार को विकासखंड स्तरीय कबाड़ से जुगाड प्रतियोगिता कोरबा शहरी का आयोजन किया गया। जिला शिक्षा अधिकारी जीपी भारद्वाज के मार्गदर्शन व कोरबा बीईओ संजय अग्रवाल के सहयोग से यह स्पर्धा खरमोरा में रखी गई थी। बीआरसी अनिल रात्रे ने बताया कि कोरबा विकासखंड के शहरी क्षेत्र के समस्त प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों की ओर से विज्ञान माडलों का प्रदर्शन किया गया है। यह माडल हमारे आसपास के कबाड़ की वस्तुओं से शिक्षकों व बच्चों ने बनाए। इसलिए इसका नाम कबाड़ से जुगाड़ रखा गया है। विज्ञान एवं गणित विषयों के माडलों से बच्चों में अच्छी समझ व रुचि विकसित करना इस प्रतियोगिता का मुख्य उद्देश्य है। कार्यक्रम में नगर निगम के सभापति श्याम सुंदर सोनी मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। प्रतियोगिता में प्राथमिक व माध्यमिक स्तर के अलग अलग माडलों का प्रदर्शन हुआ।

प्राथमिक व मिडिल स्कूलों में इनका चयन

माडल प्रदर्शन में प्रथम प्राथमिक स्तर पर प्राथमिक शाला बालको सेक्टर-4 व माध्यमिक स्तर पर माध्यमिक शाला पुरानी बस्ती कोरबा का चयन हुआ। इसी प्रकार द्वितीय स्थान पर प्राथमिक स्तर ढेलवाडिह व माध्यमिक शाला दादर एवं तृतीय स्थान पर प्राथमिक स्तर पोड़ीबहार व माध्यमिक शाला परसाभांठा का चयन किया गया। शेष सभी स्कूलों को उत्कृष्ट पुरस्कार दिया गया। निर्णायक दल में मंजू तिवारी प्राचार्य शासकीय हाई स्कूल खरमोरा, वी दास प्राचार्य हाई स्कूल जेपी कालोनी व धनेंद्र सिंह राजपूत व्याख्याता हायर सेकेंडरी स्कूल पीडब्ल्यूडी रामपुर शामिल हुए।

दिव्यांग बच्चों को ट्राई साइकिल व श्रवण यंत्र

इसके साथ ही कार्यक्रम में दिव्यांग बच्चों की दिनचर्या आसान बनाने का प्रयास करते हुए आवश्यक उपकरण भी उपहार में प्रदान किए गए। मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथियों ने दिव्यांग बच्चों को जीवनोपयोगी उपकरणों में ट्राई सायकल, श्रवण यंत्र व एमआर किट उनके पालकों के समक्ष विभाग की ओर से निश्शुल्क प्रदान किया गया। इस अवसर पर तरूण सिंह राठौर, एलएन मिश्रा, सत्य ज्योति महिलांगे, एसएन कुंभकार, एसएन मनहर, एमके मिश्रा, अंजू रात्रे, अरुणा शर्मा, बबीता चौधरी, सुनीता चंद्रा समेत अन्य शिक्षक, पालक एवं दिव्यांग छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local