-कलेक्टर किरण कौशल ने लिया गंभीरता से

कोरबा (नईदुनिया न्यूज)। कोरोना वायरस के फैलाव से बदलते माहौल के बीच जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में चावल-दाल जैसी राशन सामग्रियों और सब्जियों के दाम बढ़ने तथा उनकी कालाबाजारी एवं जमाखोरी की आ रही खबरों को कलेक्टर किरण कौशल ने गंभीरता से लिया है। उन्होंने किसी भी परिस्थिति में अति आवश्यक चीजों को, सामान्य दिनों के दामों से अधिक दाम पर नहीं बेचने की अपील दुकानदारों से की है। कलेक्टर ने कोरोना वायरस संक्रमण से लड़ाई में सभी व्यापारियों से अपना सहयोग देने कहा है और राशन, सब्जियों आदि की कालाबाजारी तथा जमाखोरी नहीं करने कहा है।

कलेक्टर कौशल ने सभी व्यापारियों और राशन दुकानों में उपलब्ध सामग्रियों का स्टॉक निरीक्षण करने के निर्देश उड़नदस्ता प्रभारियों को दिए हैं। कौशल ने तहसीलदारों एवं पटवारियों को कहा है कि ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों में आलू-प्याज, तेल, दाल, चावल, दूध, सब्जी, नमक आदि जरूरी चीजों के दाम नियंत्रित रखें। किसी भी दुकानदार के अधिक दाम में चीजों की बिक्री की सूचना मिलने पर संबंधित विक्रेता के विरुद्ध विधिसम्मत प्रकरण तैयार कर कार्रवाई सुनिश्चित करें।

-दुकानदारों को मेंटेन करना होगा सोशल डिस्टेंसिंग

लॉकडाउन की स्थिति में निर्धारित किए गए समयानुसार अत्यावश्यक सेवाओं से संबंधित दुकानें आदि खुलेंगी। दुकानदारों को कोरोना संक्रमण की गंभीरता को देखते हुए अपने ग्राहकों के बीच कम से कम एक-एक मीटर की दूरी मेंटेन करनी होगी। इसके लिए दुकानों के सामने एक-एक मीटर पर लाइन, चौकोर डिब्बा या गोला बनाकर लोगों को निर्धारित दूरी पर रखना होगा। दुकानों पर भीड़ लगाने की बजाय लोगों को भी एक-एक कर सामान खरीदने की हिदायत जिला प्रशासन की ओर से लगातार दी जा रही है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket