कोरबा (नईदुनिया न्यूज)। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव व नियंत्रण हेतु लागू किए गए लॉकडाउन के दौरान भिक्षुओं, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड व अन्य स्थानों में रहकर, बेघरों, असहाय, बेसहारा लोगों को नगर के स्वयंसेवी संगठनों के माध्यम से दोनों समय का पैकेटबंद भोजन उनके स्थान पर पहुंचाकर उपलब्ध कराया जाएगा। आयुक्त राहुल देव व एडीएम संजय अग्रवाल ने निगम कार्यालय साकेत में स्वयंसेवी संगठनों की बैठक ली। बैठक में स्वयंसेवी संगठनों ने अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करने का आश्वासन दिया।

नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं उसके नियंत्रण की दिशा में जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, नगर निगम प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने अपनी सारी ताकत झोंक रखी है। महापौर राजकिशोर प्रसाद, कलेक्टर किरण कौशल, आयुक्त राहुल देव के मार्गदर्शन में विभिन्न एहतियाती कदम उठाएं गए हैं। जनजागरूकता का व्यापक प्रसार किया गया है, इसके लिए सरकार ने संपूर्ण देश में लॉकडाउन कायम किया है। लॉकडाउन के दौरान ऐसे व्यक्ति जो भिक्षाटन कर अपने भोजन की व्यवस्था करते हैं, जो भोजन बना नहीं सकते, उनका घर नहीं, बेसहारा व जरूरतमंद है, उन्हें दोनों समय का भोजन प्राप्त हो, इसके लिए प्रशासन ने महत्वपूर्ण कदम उठाएं हैं। इस कड़ी में गुरुवार को कलेक्टर किरण कौशल के निर्देश पर आयुक्त राहुल देव व एडीएम संजय अग्रवाल ने निगम कार्यालय साकेत में स्वयंसेवी संगठनों की बैठक ली, जिसमें अपर आयुक्त अशोक शर्मा, अग्रवाल सभा के अध्यक्ष श्रीकांत बुधिया, लायंस क्लब से सुभाष अग्रवाल, रोटरी क्लब से मनीष अग्रवाल, संजय बुधिया, मानव आपदा प्रबंधन के संयोजक हितानंद अग्रवाल, छत्तीसगढ़ हेल्प वेलफेयर सोसाइटी से राणा मुखर्जी व प्रभजोत कौर के साथ अन्य स्वयंसेवी संगठनों के सदस्य उपस्थित थे। बैठक के दौरान आयुक्त एवं एडीएम ने इस पर चर्चा की तथा स्वयंसेवी संगठनों से सहयोग करने की गुजारिश की। लायंस क्लब, रोटरी क्लब एवं अग्रवाल सभा की ओर से संयुक्त रूप से इस हेतु 200 पैकेट भोजन सुबह एवं 200 पैकेट भोजन शाम को, छत्तीसगढ़ हेल्प वेलफेयर सोसाइटी को उपलब्ध कराया जाएगा। सोसाइटी के वालंटियर इन भोजन पैकेट को भिक्षुओं व जरूरतमंदों तक उनके स्थान पर ही पहुंचकर उन्हें देंगे।

-घर पहुंच सेवा के लिए बना प्लेटफॉर्म

लॉकडाउन के दौरान लोग अपने घरों पर रहे, अत्यावश्यक सामग्रियों को खरीदने दुकानों तक न जाना पड़े तथा सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे। इसके लिए जिला प्रशासन व निगम प्रशासन की ओर से घर पहुंच सेवा का प्लेटफार्म तैयार कराया गया है। इसके तहत दूध, बे्रड, दही, चावल, दाल आटा, शक्कर, नमक, सब्जी जैसे अत्यावश्यक सामग्रियां जरूरतमंदों को ऑनलाइन वाट्सएप से ऑर्डर करने पर उनके घर पहुंचाया जाएगा। इस व्यवस्था के तहत दूध, दही व ब्रेड की आपूर्ति राजेंद्र बर्नवाल की ओर से किए जाने की सहमति उनके द्वारा दी गई है। इसी प्रकार शहर के थोक आपूर्तिकर्ता राशन व अन्य आवश्यक खाद्य पदार्थों की आपूर्ति संबंधी प्लेटफॉर्म को करेंगे। वहीं थोक सब्जी व्यवसायियों द्वारा सब्जी की आपूर्ति उक्त प्लेटफॉर्म पर की जाएगी। घर पहुंच सेवा के लिए वालंटियर नियुक्त किए गए हैं, जिन्हें प्रशासन से परिचय पत्र दिए जाएंगे। घर पहुंच सेवा के लिए निगम के कोरबा जोन अंतर्गत मोबाइल नंबर 79749-93846, परिवहन नगर जोन के लिए मोबाइल नंबर 74707-05767, कोसाबाड़ी जोन के लिए मोबाइल नंबर 62662-07670 तथा पंडित रविशंकर शुक्ल जोन के लिए मोबाइल नंबर 91317-29019 में सूचित किया जा सकता है।

-थोक सब्जी व्यापारी सोशल डिस्टेंसिंग का करें पालन

आयुक्त देव एवं एडीएम अग्रवाल ने गुरुवार को बुधवारी थोक बाजार के व्यापारियों की बैठक ली तथा व्यापारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि यह देखने में आता है कि बुधवारी थोक बाजार में भारी अव्यवस्था फैलती है। फुटकर व्यापारियों की भीड़ जमा होती है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा है, जिसके कारण कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका बढ़ रही है, वे व्यवस्था को सुधारे। शहर एवं जिले में लॉकडाउन के साथ-साथ धारा 144 भी प्रभावशील है, यदि अव्यवस्था फैलाई गई तो कड़ी कार्रवाई होगी। उन्हें कहा गया कि वे अपनी थोक दुकानों के सामने निर्धारित दूरी चिन्हांकित करते हुए मार्किंग कराएं तथा एक-एक करके फुटकर व्यवसायियों को सब्जी दें, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग कायम रहे। उन्होंने कहा कि उस समय जिला प्रशासन पुलिस प्रशासन व निगम प्रशासन के अधिकारी-कर्मचारी भी रहेंगे। समस्त थोक व्यापारी इसके लिए एक सुनियोजित व्यवस्था बनाकर उसे क्रियान्वित कराएं।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket