कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। गेवरा रोड़ रेल्वे स्टेशन से बंद ट्रेनों का परिचालन पुनः चालू करने की मांग उठनी लगी है। मार्क्सवादी कम्युनिष्ट पार्टी ने स्टेशन के समक्ष प्रदर्शन कर डीआरएम के नाम ज्ञापन सौंपा। साथ ही कहा कि चेतावनी दी कि 26 जुलाई तक ट्रेन चालू नहीं की जाती है, तो रेल चक्काजाम किया जाएगा।

देश में बढ़ती कोयले की मांग के वजह से रेल प्रबंधन ने कोयला लदान बढ़ा दिया है। मालगाड़ियों के परिचालन में किसी तरह की दिक्कत न हो, इसलिए सवारी ट्रेनों का परिचालन आगामी आदेश तक बंद कर रखा है। इससे यात्रियों को आवागमन में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। गेवरारोड स्टेशन से एक भी ट्रेन का परिचालन नहीं हो रहा है। इससे क्षेत्रवासियों में रोष व्याप्त है। गेवरारोड स्टेशन से पूर्व में चनले वाली सभी ट्रेनों का परिचालन पुनः शुरू कराए जाने की मांग लेकर क्षेत्रवासी आंदोलन का रास्ता अख्तियार करने जुट गए हैं। माकपा ने इसकी पहल करते हुए बुधवार को स्टेशन के समक्ष प्रदर्शन कर नारेबाजी की। इस मौकेपर माकपा जिला सचिव प्रशांत झा ने कहा कि कोरबा पश्चिम की जनता को रेल प्रबंधन सुविधा के नाम पर लगातार धोखा देते आ रही है। अब आने वाले समय में जनता को यात्री ट्रेनों की सुविधा मिलते तक मालगाड़ी के पहिए जाम करने का काम आम जनता 26 जुलाई को करेगी। माकपा नेता वीएम मनोहर ने कहा कि गेवरा रोड रेल्वे को सबसे ज्यादा राजस्व देता है, लेकिन आम जनता को सुविधा के नाम पर रेल्वे हर समय गुमराह कर रहा है। लाक डाउन में जिन ट्रेनों को बंद किया गया, उसमें कुछ ट्रेनों को माकपा के बड़े आंदोलन के बाद शुरू किया गया था, पर 14 अप्रैल को आदेश जारी कर फिर से सभी यात्री ट्रेनों को बंद कर दिया गया है। जिससे जनता में काफी आक्रोश है। नौजवान सभा के नेता दामोदर श्याम ने कहा कि यदि रेल प्रबंधन अपने जन विरोधी रवैये को नहीं छोड़ती है, तो इस क्षेत्र के लोग, जिन्होंने अपनी जमीन इस सरकार को कोयला खनन के लिए दी है, वे यंहा से रेल्वे को भी कोयला परिवहन की अनुमति नहीं देंगे और रेल चक्काजाम के लिए व्यापक जन अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान प्रमुख रूप से समार सिंह, शेख बच्चा, शिशुपाल यादव, प्रेम शांडिल्य, ज्ञानेंद्र मिश्रा, हरीश कंवर, अभिजीत गुप्ता, एसपी गौतम, शाजी जान, आइपी केशरवानी, जनरैल सिंह, दामोदर, रेशम, दीना, सनत, कृष्णा उपस्थित रहे।

केवल लदान बढ़ाने पर जोर दे रही रेल प्रबंधन

छत्तीसगढ़ किसान सभा के जिला अध्यक्ष जवाहर सिंह कंवर, जय कौशिक, संजय यादव ने कहा कि गेवरा रोड स्टेशन से छोटे व्यापारी, किसान, मजदूर व जरूरतमंद आम जनता सस्ता सुगम साधन ट्रेन का उपयोग करते हैं। इसे पूरी तरह से बंद करके रेल्वे प्रबंधन केवल कोयला लदान बढ़ाने जुटी है। जनता को धोखा देने का काम कर रही है। इसका जवाब महिलाएं, किसान, छात्र, नौजवान 26 जुलाई को रेल चक्काजाम करके देंगे। पश्चिम की आमजनता को एक साथ खड़ा होते हुए साथ लड़ना होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close