कोरबा(नईदुनिया प्रतिनिधि)। त्यौहारी खरीदारी के लिए मंगलवार को बाजार में उमड़ी भीड़ से शहर मुख्यमार्गों में जाम लगने से लोग हलकान रहे है। सड़क में लगी व्यसवाइयों के सामानों के स्टाल और दुकान के आगे अस्त-व्यस्त पार्किंग से यह स्थिति निर्मित होने लगी है। शहर में फैली अव्यवस्था ने यातायात विभाग के ढिलाई की पोल खोल दी है।

शहर की चरमराई यातायात व्यवस्था आम लोगों के लिए एक बार फिर से समस्या परेशानी कारण बन रहा है। दरअसल शहर में जिस तादात में वाहनों का दबाव बढ़ रहा उस लिहाज बायपास सड़कों में सुविधाओं को विस्तार नहीं दिया जा रहा। जिन जगहों सुविधाएं दी गई है उनका उपयोग कराने में यातायात विभाग नामाम है। शहर के मुख्य बाजार पावर हाउस रोड में वाहनों की अवस्थित पार्किंग को दूर करने के लिए दर्री रोड में 3.50 करोड़ की लागत से मल्टीलेबल पार्किंग का निर्माण किया गया है। निर्माण पूरा होने पांच साल बाद भी इसका उपयोग नहीं हो रहा है। बात केवल रक्षा बंधन त्यौहार की ही नहीं बल्कि दीपवाली, धनतेर जैसे त्यौहारों में इस मार्ग में जाम लगना आम बात है। आम लोगों के आवागमन के लिए शहर के बुधवारी से लेकर घंटाघर होते हुए कोसाबाड़ी मार्ग पर फुटपाथ का निर्माण किया गया है। यहां व्यवसाइयों का कब्जा होने से पैदल चलने वाले भी मुख्य सड़क पर चलने को मजबूर हैं। सबसे बड़ी विकट समस्या शहर के मुख्य मार्ग से लगे फाटक से है। हर दस से 15 मिनट के अंतराल में ओवर ब्रिज के नीचे का रेलवे फाटक बंद हो जाता है। दूसरी ओर सुनालिया फाटक है। दोनों के खुलते मार्ग में वाहनों की कतार लग जाती है। ओवर ब्रिज से आवागमन सुनिश्चित नहीं होने शहर का हृदय स्थल में जाम लग जाता है। तीन दिन बाद शहर में राष्ट्रीय पर्व का आयोजन होगा। इस दौरान शहर में प्रभात फेरी निकाली जाएगी, शहर के मुख्य आयोजन स्थल सीएसईबी फुटबाल मैदान की ओर आवागमन करने वालों की भीड़ लगी है। यातायात व्यवस्था को दुरूस्त नहीं किया गया तो जाम की स्थिति निर्मित होगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close