कोरबा (नईदुनिया न्यूज)। झीरम घाटी घटना में दिवंगत हुए कांग्रेस नेताओं को याद करते हुए जिला कांग्रेस कमेटी द्वारा श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके पर राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा झीरम घाटी घटना में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को हमेशा के लिए खो दिया। उनकी बलिदानी से जो स्थान रिक्त हुआ है, उसकी भरपाई मुश्किल है। उन्होने कहा कि नक्सल विचारधारा का अंत होना ही छत्तीसगढ़ के हित में है। 25 मई 2013 को हुई घटना ने छत्तीसगढ़ समेत पूरे भारत को हिलाकर रख दिया था।

ट्रांसपोर्ट नगर स्थित कांग्रेस कार्यालय में आयोजित श्रृद्धाजंलि सभा में सांसद ज्योत्सना महंत ने झीरम हादसे को आजाद भारत की सबसे बड़ी वारदात बताया। घटना में तत्कालिन प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नंद कुमार पटेल, महेन्द्र कर्मा, विद्याचरण शुक्ल, उदय मुदलियार, दिनेश पटेल, योगेन्द्र शर्मा समेत अन्य कांग्रेस नेता व सुरक्षा का निधन हो गया था। इस घटना ने राज्य की भाजपा सरकार की सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी थी। महापौर राजकिशोर प्रसाद ने कहा कि झीरम घटना भाजपा के साजिश का हिस्सा था, तत्कालिन प्रदेश सरकार द्वारा इस घटना की जांच नही कराने के कारण कई प्रकार के सवाल खड़े होना स्वाभाविक था। जिला कांग्रेस अध्यक्ष सुरेन्द्र प्रताप जायसवाल ने कहा कि जब यह घटना हुई, तब कांग्रेस के पक्ष में सकारात्मक वातावरण बन रहा था। संभावित नतीजों को जानकर इस तरह का जाल बुना गया। इससे छत्तीसगढ़ की राजनीति दागदार हो गई। सभापति श्यामसुंदर सोनी, ब्लाक अध्यक्ष संतोष राठौर ने भी विचार व्यक्त किए। वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री उषा तिवारी ने कहा कि झीरम घाटी की घटना को नौ साल हो गये लेकिन आज भी इस घटना को नही भूल पाए और कभी भूल भी नही पाएंगे। वरिष्ठ कांग्रेस नेता हरीश परसाई ने कहा कि झीरम घाटी की घटना में नक्सलियों ने जो तांडव मचाया जिसमें कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ कुल 32 लोगों की मृत्यु इस घटना में हुई। इस काले दिन को छत्तीसगढ़वासी कभी नही भूल सकते। कार्यक्रम के प्रारंभ में शहीद नेताओं को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए शहीद नेताओं के तैलचित्र पर माल्यार्पण किया गया तत्पश्चात् शहीद नेताओं की याद में दो मिनट का मौन रखकर उन्हे श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष कुसुम द्विवेदी, वरिष्ठ कांग्रेस नेता श्रीकांत बुधिया, विजय खेत्रपाल, सत्येन्द्र वासन, लक्ष्‌मी नारायण देवांगन, भुनेश्वर राज, अवधेश सिंह ठाकुर, बीके मिश्रा, राजेन्द्र तिवारी, विनोद अग्रवाल, रामगोपाल यादव, पार्षद दिनेश सोनी, रवि सिंह चंदेल, अनुज जायसवाल, एल्डरमेन एस मूर्ति, सुफल महंत आदि समेत अन्य कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close