कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोयला सेक्टर में 12 सूत्रीय मांग को लेकर 26 नवंबर को प्रस्तावित हड़ताल में ड्यूटी में जाने वाले कर्मियों को जबरदस्ती नहीं रोका जाएगा। साथ ही आवश्यक सेवाएं भी बाधित नहीं की जाएगी। क्षेत्रीय संयुक्त सलाहकार समिति (जेसीसी) की बैठक में प्रबंधन व श्रमिक संघ प्रतिनिधियों के मध्य सहमति बनी। प्रबंधन ने कहा कि जिन मुद्दों को लेकर हड़ताल की जा रही है, वे केंद्र से जुड़े हुए हैं।

देशव्यापी हड़ताल में कोयला सेक्टर के चार यूनियन एटक, सीटू, एसईकेएमसी इंटक, एचएमएस व रेड्डी गुट इंटक भी शामिल हैं और कमर्शियल माइनिंग, विनिवेश समेत अन्य मुद्दों को लेकर हड़ताल कर रही है। श्रमिक संघ प्रतिनिधियों की तैयारी के साथ ही प्रबंधन भी हड़ताल में किसी तरह की बाधा से निपटने जुट गया है। सोमवार को जेसीसी की बैठक कर प्रबंधन ने हड़ताल में नहीं जाने की समझाइश दी। साथ कहा कि कोयला प्रबंधन ने केंद्र सरकार के समक्ष उनकी मांग रखी गई है और इस मसले पर केंद्र ही निर्णय ले सकता है। श्रमिक नेताओं ने कहा कि केंद्र सरकार के समक्ष पहले ही प्रस्ताव रखा जा चुका है, बावजूद कमर्शियल माइनिंग में बोली लगा कर कोल ब्लाक आबंटित कर दिए गए। बैठक में शामिल महाप्रबंधक एनके सिंह व क्षेत्रीय कार्मिक प्रबंधक एन पटनायक ने कहा कि हड़ताल के दौरान किसी तरह की अप्रिय स्थिति निर्मित न हो, इसलिए ड्यूटी करने वाले कर्मियों को रोकने को जबरन न रोका जाए। चिकित्सालय, बिजली व पानी समेत अन्य आवश्यक सेवा में शामिल कर्मियों को भी ड्यूटी जाने दिया जाए। इमरजेंसी ड्यूटी वाले कर्मियों की सूची तैयार की जा रही है। श्रमिक नेताओं ने आश्वस्त किया कि ड्यूटी जाने वाले कर्मियों को जबरदस्ती नहीं रोका जाएगा। आवश्यक सेवाएं भी यथावत रूप से जारी रहेगी। बैठक में श्रमिक संघ की ओर से दीपेश मिश्रा, केके शर्मा, अनूप सरकार, संजय सिंह, ए विश्वास व आफिसर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी समेत अन्य सदस्य प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

ठेका मजदूर को भी शामिल करेंगे हड़ताल में

श्रमिक संघ प्रतिनिधियों ने बैठक के बाद कर्मियों के मध्य जनसंपर्क अभियान तेज कर दिया। एटक के वरिष्ठ नेता दीपेश मिश्रा ने बताया कि प्रबंधन ने साथ औपचारिक रूप से बैठक हुई। हड़ताल के दौरान किसी तरह की आवश्यक सेवा बाधित नहीं की जाएगी और नहीं जबरन किसी कर्मी को रोका जाएगा। हड़ताल में ठेका मजदूरों को भी शामिल किया जाएगा। एसईकेएमसी के केंद्रीय अध्यक्ष गोपाल नारायण सिंह ने कहा कि केंद्रीय पदाधिकारियों ने हड़ताल की रूपरेखा तैयार की है। जनसंपर्क अभियान चला कर्मियों को हड़ताल में शामिल होने का आव्हान किया जा रहा है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस