कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा चलाए जा रहे कोरोना नियंत्रण जागरूकता अभियान के तहत आनलाइन वर्चुअल बैठक के माध्यम से विद्यार्थी ,पालक व शिक्षक जुड़े। इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में शामिल राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि प्रदेश में कोरोना महामारी से लड़ाई में छत्तीसगढ़ सरकार बेहतरीन चिकित्सा सुविधा प्रदान कर रही है । शिक्षकों से कहा कि कोरोना नियंत्रण में लगे शिक्षक यदि संक्रमण की चपेट में आते हैं तो उनका इलाज शासन कराएगी ।

राजस्व मंत्री अग्रवाल ने जिला में बेहतर शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के साथ-साथ विद्यालयों की अधोसंरचना को सुधारने उसे और अधिक सुंदर बनाने तथा शासकीय विद्यालयों को आकर्षक बनाने के लिए किए गए प्रयासों का जिक्र कर, विद्यार्थियों व शिक्षकों का उत्साह बढाया। राजस्व मंत्री ने विद्यार्थियों के सवालों के जवाब दिए। मुस्कान राज तिलकेजा ने प्रश्न किया कि कोरोना वायरस श्वसन तंत्र को ही क्यों प्रभावित करता है । रिया स्वर्णकार कोरकोमा की जिज्ञासा थी कि टीका के प्रथम डोज में परेशानी आने के कारण कई लोग दूसरा डोज लगाने से डर रहे है , इस भ्रांति को कैसे दूर करें। राज राठौर उतरदा ने कहा तालाब या नलकूप का सामूहिक उपयोग से संक्रमण फैलने का डर बना हुआ है । मंत्री अग्रवाल ने सभी बच्चों के जिज्ञासा जवाब देकर शांत किया। वर्चुअल बैठक में उपस्थित लोगों को पालूराम साहू पार्षद , सपना चौहान, प्रीति कंवर जिला पंचायत सदस्य, सुधीर जैन मंडल अध्यक्ष, अमरजीत सिंह एमआईसी सदस्य ने कोरोना बचाव व रोकथाम पर जन जागरूकता संबंधी संदेश दिए। गणराज सिंह कंवर जिला पंचायत सदस्य, प्राचार्यगण वीरभद्र सिंह पैकरा, रमाउमा निडि, सुखदेव डिंडोरे, विवेक लांडे , एमआर श्रीवास, जीपी जानवर, अनिता ओहरी, ज्योति शुक्ला, संगीता साव, व्याख्यातागण भुपेंद्र सिन्ह राठौर, प्रकाश पडवाल, प्रभा साव, ममता सिंह राजपूत, महावीर प्रसाद चंद्रा, लखन लाल धीवर, रीता चौधरी, सर्वेश सोनी, मुकुंद उपाध्याय समेत पार्षद, जनप्रतिनिधि, विद्यार्थी, अभिभावक, शिक्षक व्याख्याताओं ने हिस्सा लिया।

समस्याओं का जल्द समाधान हो रहा

संबोधन की कड़ी में पार्षद सुरेंद्र जायसवाल ने बताया कि जिला में शासन व प्रशासन के अच्छा समन्यवय व उनकी निष्ठा का परिणाम है कि समस्याओं का जल्द समाधान हो रहा है । नगर निगम महापौर राजकिशोर प्रसाद ने पाजिटिव व्यक्तियों को तुरंत मेडिकल किट उपलब्ध कराने की जानकारी दी। सभापति श्यामसुंदर सोनी ने कहा कि आज कोरोना काल में शिक्षक वर्ग भी अपने परिवार की चिंता किए बगैर सेवा के लिए डटे है ,यह सराहनीय है ।संचालन निशा चंद्रा व्याख्याता व मंजुला श्रीवास्तव व्याख्याताद्वय ने किया। रचना प्राकल्पन कामता जायसवाल प्रभारी प्राचार्य तुमान ने की। फरहाना अली, पी पटेल, लक्ष्‌मीकात साहू प्राचार्य ने जागरूकता अभियान के खास बिंदुओं से अवगत कराया।

टीकाकरण की दूर की भ्रांतियां

वर्चुअल बैठक की कार्रवाई को राकेश टंडन व्याख्याता उतरदा द्वारा तकनीकी सहयोग करते हुए गुगल मीट संचालन करते हुए फेसबुक व यूट्यूब पर प्रसारित किया। साथ ही फोन कांटेक्ट चैन द्वारा जन जागरूकता संदेश को फैलाए जाने का निश्चय किया। शिक्षा विभाग इस कार्यक्रम जिसमें कोरोना के लक्षण, निश्शुल्क जांच एवं इलाज की सुविधा, कोरोना से बचने के उपाय, टीकाकरण की भ्रांतियां को दूर किया गया। सतीश पांडेय जिला शिक्षा अधिकारी ने सभी का मार्गदर्शन करते हुए 20 दिनों से चल रहे जागरूकता अभियान के लिए प्राचार्यों व शिक्षकों की सेवा भावना को श्रेय दिया। जिले के ही नहीं बल्कि राज्य के अन्य जिले के छात्र- छात्राए, अभिभावक, नागरिक एवं जन प्रतिनिधियों ने सराहना की।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags