दर्री, नईदुनिया न्यूज। कक्षा 11वीं की एक छात्रा ने अपने हाथ में लिखा कि वह अपने पिता की तरह जिंगदी नहीं जीना चाहती और फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। छात्रा के माता-पिता अलग रहते हैं, जिसकी वजह से वह मानसिक रूप से परेशान थीं। माना जा रहा है कि इसी वजह से उसने यह कदम उठाया।

दर्री थानांतर्गत जमनीपाली इंदिरा नगर में रहने वाली निशा चौहान की पुत्री शीतल चौहान (17) क्षेत्र के एक निजी स्कूल में अध्ययनरत थीं। मां और पुत्री घर में अकेले रहते थे। रक्षाबंधन के दिन मां-बेटी कोरबा आए हुए थे। निशा आर्केस्ट्रा में गायिका है और इसी के माध्यम से उनकी आजीविका चलती है। कोरबा में निशा रिहर्सल के लिए आई हुई थी। इस दौरान शीतल घर वापस लौटने जिद की, इसलिए उसे छोड़कर वह वापस कोरबा आई। निशा तड़के तीन बजे घर पहुंची, उस वक्त शीतल के कमरे का दरवाजा बंद था, जिसकी वजह से वह अपने कमरे में सोने चली गई।

सुबह जब काफी देर तक शीतल के कमरे का दरवाजा नहीं खुला, तब निशा ने आसपास के लोगों को बुलाया। खिड़की से देखा गया तो शीतल की लाश फांसी के फंदे में झूलती अवस्था में मिली। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची दर्री पुलिस ने शव को नीचे उतारा। शीतल ने अपने हाथ में सुसाइड नोट लिख रखा था, जिसमें उसने अपने पिता का जिक्र किया था। उसने लिखा था मैं पिता तुलसीराम जयसिंह की तरह जीना नहीं चाहती।

दरअसल कलाई के पास लिखना शुरू कर हथेली तक लिखा है। मुट्ठी बंद हो जाने की वजह से आगे की लाइन दिखाई नहीं दे रही। शरीर अकड़ गया था, इसलिए काफी कोशिश के बाद भी मुट्ठी नहीं खुल सका। बताया जा रहा है कि शीतल के माता-पिता के बीच संबंध अच्छे नहीं थे। लंबे समय से दोनों अलग रह रहे थे, जिसका बुरा असर शीतल पर पड़ा था। वह काफी दिनों से डिप्रेशन में थी। पुलिस का मानना है कि शायद इसी पारिवारिक समस्या की वजह से उसने यह आत्मघाती कदम उठाया। पिᆬलहाल पुलिस इस मामले में मर्ग कायम कर विवेचना कर रही है।

हाइवे के समीप मिले नवजात ने तोड़ा दम, इस कारण थम गई सांसें

पद्मश्री दामोदर गणेश बापट नहीं रहे, कुष्ठ रोगियों की सेवा में खपा दी थी पूरी जिंदगी

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020