कोरबा। Korba News 10 साल से इंसाफ के लिए भटक भटक रही महिला ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कार्यालय में जहर का सेवन कर लिया । आनन-फानन में महिला को उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में दाखिल कराया गया,जहां उसकी हालत खराब बताई जा रही है।

पीड़ित पक्ष की मानें तो रामपुर चौकी प्रभारी राजेश चंद्रवंशी द्वारा उसे इतना प्रताड़ित किया गया कि उसके पास आत्महत्या के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा था । इसके पहले भी उसने कई बार इंसाफ के लिए गुहार लगाई थी लेकिन उसे बार-बार पेसी देकर चौकी से भगा दिया जाता था। इन बातों से लगातार वह अवसाद की स्थिति में आ गई थी।

बताया जाता है कि आज भी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कार्यालय में पीड़िता के साथ रामपुर चौकी प्रभारी ने कथित तौर पर अभद्र व्यवहार किया तो महिला ने जहर सेवन कर लिया। जैसे ही उसकी हालत बिगड़ी पुलिस के भी हाथ पैर फूले और उसे फौरन जिला चिकित्सालय भिजवाया गया।

पीड़िता का आरोप है कि वह लगातार रामपुर चौकी प्रभारी के चलते प्रताड़ित हो रही थी। उसका कहना था कि अदालत परिसर में उसे उसके शौहर ने तीन बार तलाक बोला था। इसकी शिकायत करने के बाद पुलिस द्वारा कार्रवाई में काफी हील हवाला की गई।

सतना की रहने वाली आयशा का निकाह पथरी पारा निवासी मोहम्मद नियाज खान से हुआ था। विवाह के बाद से ही दहेज के लिए प्रताड़ित किए जाने पर महिला के साथ अनबन शुरू हुई । बाद में यह मामला तलाक तक पहुंच गया। मोहम्मद नियाज खान पोड़ी उपरोड़ा के मदनपुर में शिक्षक के पद पर पदस्थ हैं।बताया जा रहा आज पुलिस इस मामले में पीड़िता के पति की गिरफ्तारी कार्रवाई कर रही थी । इस मामले में चौकी प्रभारी का पक्ष नहीं मिल सका ।

Posted By: Hemant Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020