कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बुधवारी बाजार में लगे डिजनीलैंड मेला में उस वक्त अफरा तफरी मच गई, जब रेंजर झूला बेकाबू होकर तेज रफ्तार में चलने लगा। अचानक आई खराबी की वजह से झूला 45 फीट उपर लटक गई और उसमें बैठे लोग उल्टे आसमान में लटके रहे। इस घटना को नगर निगम के अधिकारियों ने गंभीरता से लेते हुए डिजनीलैंड मेला को बंद करा दिया है।

गर्मियों की छुट्टी में मेला लगता है। कोरोना काल की वजह से पिछले दो साल से मेला नहीं लग रहा था। इस बार करीब 25 दिन पहले डिजनीलैंड के नाम से मेला संचालित हो रहा था। यहां बच्चों के लिए कई रोमांचकारी झूले भी लगे हैं। इन दिनों यह आकर्षण का केंद्र बना हुआ था। शनिवार को रात करीब आठ बजे रेंजर झूला में बैठे करीब 25 लोगों का कलेजा मुंह को आ गया। दरअसल निर्धारित डिग्री में घूमने वाला यह झूला बेकाबू हो गया और तेज गति में चलते हुए तार टूट जाने की वजह से झूला आसमान की ओर जाकर अटक गया। बताया जा रहा है कि झूले में बैठने वालों का हाथ पैर बंधा होता है और सुरक्षा की दृष्टि से राड भी लगा रहता है। करीब 15 मिनट तक झूला उपर लटका रहा और लोगों कीसांसे अटकी रही।

किसी तरह झूला का सिस्टम ठीक किया गया तो वह नीचे पहुंचा, तब जाकर जान में जान आई। इसघटना की वीडियो कुछ लोगों ने बना लिया और देखते ही देखते इंटरनेट मीडिया में वायरल हो गया।नगर निगम के अधिकारियों तक यह बात पहुंच गई। निगम के संपदा अधिकारी श्रीधर बनाफर ने बताया कि नगर निगम के शर्तों का उल्लंघन हुआ है। झूले की अनुमति किसी भी तरह की घटना नहीं होने के शपथ पर प्रदान की जाती है। यह सुखद ही संयोग है कि झूला खराब होने की वजह से कोई अनहोनी नहीं हुई। मीना बाजार के संचालक को नोटिस जारी कह दिया गया है। मीना बाजार का संचालन तत्काल प्रभाव से बंद कर दिया जाए। रविवार से मीना बाजार की अनुमति प्रदान नहीं की जाएगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close