कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। करीब नौ साल पहले एक नाबालिग लड़की को शादी करने का भरोसा दिला कर अपने साथ उसे एक युवक विशाखापट्टनम भगा ले गया। इस बीच उसने नाबालिक का सिंदूर भर शादी कर लेने की बात कही। रीति रिवाज से बाद में शादी करने का झांसा देकर वापस घर छोड़ दिया और दैहिक शोषण करता रहा। पुलिस ने दुष्कर्म का मामला दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

दर्री थाना क्षेत्र में रहने वाली एक नाबालिग लड़की को सिंचाई कालोनी में रहने वाला प्रमोद कुमार गुप्ता 27 वर्ष 2013 से लगातार शिशु मंदिर प्रगति नगर के पास शारीरिक संबंध स्थापित कर दैहिक शोषण करता रहा। इस दौरान वर्ष 2019 में प्रमोद ने पीड़िता को अपने साथ विशाखापट्टनम भी लेकर गया, जहां उसकी मांग में सिंदूर भर कर कहा कि तुम मेरी पत्नी हो। साथ ही एक लाज में तीन दिन तक लगातार शारीरिक शोषण किया। वापस लौटे के बाद पीड़िता से सामाजिक रीति रिवाज से शादी करने का आश्वासन दे कर टाल मटोल करता रहा। इससे नाराज होकर पीड़िता ने इसकी रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई। मामला दर्ज होने की जानकारी मिलते ही प्रमोद भाग गया। पुलिस ने आरोपित की काफी पतासाजी की पर आरोपित जगह बदल- बदल कर रह रहा था। इससे पकड़ में नहीं आ रहा था। इस दौरान पुलिस को सूचना मिली कि आरोपित झारखंड में है। थाना प्रभारी निरीक्षक विवेक शर्मा ने टीम गठित कर आरोपित की पतासाजी करने झारखंड के लिए रवाना किया। जहां से आरोपित प्रमोद गुप्ता को गिरफ्तार कर थाना लाया गया। पूछताछ करने पर पहले टालमटोल करते रहा, फिर कड़ाई से पूछताछ करने पर जुर्म करना स्वीकार किया। मामले में विधिवत गिरफ्तार कर इसकी सूचना स्वजनों को देकर न्यायिक रिमांड पर भेजा दिया गया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local