कोरबा। कोयला उद्योग में शत प्रतिशत एफडीआई लागू करने के विरोध में भारतीय मजदूर संघ व एसईकेएमसी इंटक की अगुवाई में आज से पांच दिवसीय हड़ताल शुरू हो गई। खदान क्षेत्र में संगठन के पदाधिकारियों द्वारा मजदूरों को काम पर नहीं जाने का आह्वान किया गया। एसईसीएल की गेवरा, दीपका, कोरबा व कुसमुंडा में काफी संख्या में कर्मचारी कार्य पर नहीं गए। खदानों के बाहर निजी कंपनी के वाहन हड़ताल के दौरान खड़े रहे। गेवरा से एनटीपीसी कोयला सप्लाई को भी बीएमएस के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने रोक दिया।

गेवरा में संयुक्त मोर्चा द्वारा बाईक रैली शतप्रतीशत विदेशी निवेश के विरोध में बाइक रैली का अयोजन किया गया है। एफडीआई के खिलाफ कोल इंडिया में मंगलवार को चार श्रमिक संघ द्वारा एक दिवसीय हड़ताल की जाएगी। इस हड़ताल को सफल बनाने एवं कर्मियों से समर्थन मांगने एसईसीएल गेवरा क्षेत्र में एचएमएस, एटक और सीटू द्वारा बाईक रैली निकाली जाएगी।

जो आजाद चौक से शुरू होकर पूरी कालोनी परिसर से होते हुए भू-विस्थापित ग्रामों से भ्रमण करते हुए वापस आजाद चौक पहुंचेगी और आमसभा में बदल जाएगी। एचएमएस के वरिष्ठ नेता एससी मंसूरी ने बताया कि रैली शाम चार बजे निकलेगी। इसमें सभी संगठन के पदाधिकारी, कार्यकर्ता और कर्मचारी शामिल होंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network