कोरबा (नईदुनिया न्यूज)। भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) ने क्षेत्र के पांच सरकारी स्कूलों के लगभग 250 विद्यार्थी के लिए एक माह का शिक्षा और कौशल विकास कार्यक्रम आयोजित किया।

बालको सीएसआर के प्रोजेक्ट कनेक्ट के तहत साइंस, टेक्नोलाजी, इंजीनियरिंग एंड मैथमेटिक्स, लाइफ स्किल, डाइट एजुकेशन, साइबर क्राइम, व्यक्तित्व विकास, स्व-प्रबंधन, कंप्यूटर शिक्षा, संचार, प्रेरणा, खेल शिक्षा, कानून सत्र तथा नृत्य, संगीत, कला एवं शिल्प, करियर परामर्श तथा पशु बचाव आदि विभिन्ना विषयों की जानकारी दी गई। बालको कर्मचारियों ने छात्रों को पढ़ाया तथा विविध विषयों पर अपने अनुभवों को साझा किया और उन्हें अपनी महत्वाकांक्षाओं को आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित किया। बालको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं निदेशक अभिजीत पति ने कहा कि सतत आजीविका विकास वेदांता दर्शन के सामुदायिक विकास प्रयासों में एक प्रमुख स्तंभ है। प्रशिक्षित विद्यार्थी अपने कौशल एवं शिक्षा से छत्तीसगढ़ और भारत के भविष्य को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। बालको स्थानीय युवाओं के बीच कौशल विकास को बढ़ावा देने तथा उन्हें सीखने के अवसरों का लाभ प्रदान करने और उनकी रुचि के अनुरूप उन्हें प्रशिक्षिण देने के लिए कटिबद्ध है। समुदाय में प्रत्येक व्यक्ति को आत्मनिर्भर बनाने के लिए आवश्यक संसाधनों को उपलब्ध कराने के लिए बालको प्रतिबद्ध है। गवर्नमेंट बायज स्कूल की प्रधानाचार्या मनोकांता पाल ने कहा कि बालको कोरबा के छात्रों की विकास यात्रा में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। छात्रों के लिए महीने भर का विशेष ज्ञान शिविर आयोजित करना कंपनी का सराहनीय कदम है। उन्होंने शिविर में स्वेच्छा से योगदान देने वाले बालको कर्मचारियों के प्रति आभार जताया।

एसईएमए विषयों पर 1447 छात्र हुए लाभांवित

वर्ष 2016 में शुरू परियोजना कनेक्ट का उद्देश्य स्थानीय विद्यार्थियों में विज्ञान, अंग्रेजी, गणित और लेखा में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए समुदाय की जरूरतों को पूरा करना है। परियोजना मुख्य रूप से बालको कर्मचारियों तथा स्वयंसेवी शिक्षकों के माध्यम से छात्रों के ग्रेड में सुधार, शिक्षकों की क्षमता निर्माण और करियर परामर्श के लिए एक सक्षम वातावरण बनाकर सरकारी स्कूलों में सीखने के माहौल में सुधार लाने पर केंद्रित है। वित्तीय वर्ष 2022 में एसईएमए विषयों पर नौवीं, 10वीं कक्षा के लिए नियमित और उपचारात्मक कक्षाओं से लगभग 1447 छात्र लाभांवित हुए।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close