कोरबा (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पुनर्वास ग्रामों की समस्या और भू-विस्थापित परिवारों की रोजगार ,मुआवजा से जुड़े लंबित प्रकरण आदि विषयों पर पुनर्वास ग्रामो का सम्मेलन आगामी 31 जनवरी को पुनर्वास ग्राम बेलटिकरी बसाहट विवेकानंद नगर दीपका में आयोजित किया जाएगा।

ऊर्जाधानी भू-विस्थापित किसान कल्याण समिति के तत्वाधान में आयोजित होने वाले इस सम्मेलन में एसईसीएल कुसमुंडा, गेवरा और दीपका से प्रभावित और विस्थापित ग्रामो के प्रतिनिधि सम्मिलित होंगे। उर्जाधानी भू-विस्थापित किसान कल्याण समिति ने बताया कि संगठन द्वारा भू-विस्थापित किसानों की समस्याओं के लिए चलाए गए आंदोलन और अभियान के बाद नवंबर माह में कलेक्टर व एसईसीएल मुख्यालय के बोर्ड अधिकारियों के साथ सकारात्मक वार्ता हुई थी। इसके बाद पुराने लंबित रोजगार , नए अधिग्रहण के मामले में बेहतर पुनर्वास , रोजगार, मुआवजा ,बसाहट, युवा बेरोजगारों और महिलाओं के स्वरोजगार, ट्रेनिंग और व्यवसाय शुरू करने सीएसआर से मदद करने, पुनर्वास ग्रामों की सभी बुनियादी सुविधाओं को प्रदान करने का निर्णय लिया गया था और एसडीएम, तहसीलदार व राजस्व अमले के माध्यम से सर्वे भी कराया गया। सभी प्रभावित ग्रामो में 15 दिनों तक अभियान चलाकर समस्याओं की जानकारी एकत्र किया गया। जिला प्रशासन खास तौर पर कलेक्टर द्वारा गंभीरता दिखाने से भू-विस्थापितों में आस बढ़ी है और समस्याओं के निदान होने की संभावना नजर आ रही है, जिसके कारण संगठन ने अपनी आंदोलन को स्थगित करके रखा हुआ है। राजस्व विभाग द्वारा सर्वे उपरांत सौंपी गई जानकारी के आधार पर अग्रिम कार्रवाई को भू-विस्थापितों के पक्ष में फैसले लेने के लिए समग्र प्रयास को बढाने के लिए पुनर्वास ग्रामों की समस्याओं पर बातचीत कर आगामी रूपरेखा तैयार करने सुबह 11 बजे से बेलटिकरी बसाहट में सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। इस दौरान गिने चुने प्रतिनिधि ही शामिल होंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local