पाली (नईदुनिया न्यूज)। कटघोरा-बिलासपुर मुख्य मार्ग चेपा के पास लावारिस हालत में वन्य प्राणी के मांस मिलने की सूचना पर मौके पर वन विभाग की टीम पहुंचकर वन्य प्राणी के मांस को वन विभाग के डिपो में जलाकर नष्ट किया।

बताया जा रहा है कि एक हिरण की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी, जिसे अज्ञात लोगों ने हिरण के मांस को काटकर बोरी में भरकर पेड़ में लटका दिया था। वनमंडल कटघोरा वनपरिक्षेत्र पाली के अंतर्गत ग्राम पंचायत डोंगानाला मोहल्ले के बेवटखार के पास ले जाकर वन्य प्राणी को काटा गया व बोरे में भरकर कुछ मांस को पेड़ पर लटका दिया गया। शरीर के बहुत सारे हिस्से के मांस गायब मिले। सूचना मिलने पर डिप्टी रेंजर संतोष पटेल, वनरक्षक बृजलाल विश्वकर्मा, वनरक्षक यशवंत कुमार, बक्साही वन प्रबंधन समिति के अध्यक्ष देवराज यादव, गणेशपुर केवल प्रबंधन समिति के अध्यक्ष अवध राम मौके पर पहुंचे। मौके पर एक कैरी बैग में लगभग 15 किलो मांस पेड़ पर टंगा मिला। वन विभाग की टीम पेड़ में टंगे मांस को लेकर डिपो आ गई और उसे जलाकर नष्ट कर दिया। इस दौरान एसडीओ वाईटी डडसेना, रेंजर प्रहलाद यादव वनकर्मी उपस्थित थे। वन विभाग की टीम का कहना है कि हिरण की सड़क दुर्घटना मैं मौत हुई थी, लेकिन हिरण का मांस डोंगानाला बेवटखार में कैसे मिला, यह जांच का विषय है। बताया जा रहा है कि क्षेत्र के जंगल में वन्य प्राणी झुंड में विचरण करते हैं और जंगल में शिकारी वन्य प्राणी की तलाश में घूमते रहते हैं। क्षेत्र में जंगली जानवरों का शिकार होता है, लेकिन वन विभाग की नजर इस ओर नहीं पड़ती। इससे सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि इसमें वन विभाग के बीट गार्ड की मिलीभगत है।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket