कोरबा । जिले के मराठी बंधुओं ने महाराष्ट्र दिवस पर आनलाइन कार्यक्रम आयोजित किया। अपने मूल प्रदेश से भावनात्मक जुड़ाव, मराठी संस्कृति व संस्कार के संरक्षण के लिए कोरबा के महाराष्ट्र मंडल की ओर से वर्ष 1964 से महाराष्ट्र दिवस का आयोजन किया जा रहा है। इस वर्ष कोविड-19 के प्रोटोकाल को ध्यान में रखते हुए यह आयोजन आनलाइन करने का निर्णय लिया गया। कार्यक्रम में समाज के नन्हे बाल कलाकारों ने भी अपनी सहभागिता निभाई। वन्या दिवाटे ने जीजाऊ माता का व श्रीरंग आचार्य ने छत्रपति शिवाजी महाराज का रूप धारण किया था।

संयुक्त महाराष्ट्र सेवा मंडल कोरबा की उप समिति संयुक्त मातृशक्ति की सक्रिय महिलाओं ने इस कार्यक्रम की विस्तृत रूपरेखा तैयार की। एसईसीएल कोरबा में निवासरत सुनील पाठक परिवार ने कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलन एवं छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा पर माल्यार्पण के साथ किया। तत्पश्चात कोरबा पूर्व से प्रतिभा पुंडलिक ने महाराष्ट्र समाज के इन मार्गदर्शक वरिष्ठ नागरिकों का परिचय उनकी विशिष्टता बताकर सम्मान सहित कराया। इनमें 88 वर्षीय भानुमति माहुलीकर, 83 वर्षीय विजया चोरघड़े, 91 वर्षीय प्रभाकर बापट, मंदाकिनी बापट, 83 वर्षीय मधुकर जाखड़ी, 84 वर्षीय प्रतिभा चिटनविस, 95 वर्षीय कमला किरवई, 83 वर्षीय रुक्मिणी जोशी, 74 वर्षीय विजय केलकर, 69 वर्षीय विजयलक्ष्‌मी केलकर, 90 वर्षीय पद्माकर चांदोरीकर और 83 वर्षीय निर्मला चांदोरीकर शामिल हैं। अनिरुद्ध आचार्य परिवार एनटीपीसी की ओर से महाराष्ट्र गीत प्रिय अमुचा एक महाराष्ट्र देश हा प्रस्तुत किया गया। मालती जोशी कोरबा पूर्व ने संयुक्त मातृशक्ति के तत्वावधान में गत वर्ष हुए सभी आनलाइन कार्यक्रमों का संक्षिप्त विवरण पावर पाइंट प्रेजेंटेशन से किया गया। दो घंटे से अधिक समय तक चले कार्यक्रम में कोरबा के सभी क्षेत्र, कोरबा पूर्व, ट्रांसपोर्ट नगर, एचटीपीएस, एनटीपीसी, कुसमुंडा, एसईसीएल कोरबा एवं बालको से समाज के लगभग 55 परिवार के 250 सदस्य आनलाइन जुड़े थे।

सुंदर रंगोली सजाई, एमएच के शहरों की विशेषता

इस विशेष दिवस के अवसर पर समाज के सक्रिय महिला सदस्यों ने घरों में सुंदर रंगोली सजाई, जिन्हें पावर पाइंट प्रेजेंटेशन से दिखाया गया। मंगला गुर्जर, जयश्री शेष, रुक्मिणी जोशी, आरती आचार्य, यामिनी गिरधर और निलिमा देउलवार की बनाई रंगोली का प्रदर्शन किया गया। महाराष्ट्र के विभिन्ना शहरों, उनकी विशेषताओं और संक्षिप्त वर्णन सहित एक स्पेशल हाउजी का आयोजन मालती जोशी ने किया जिसका सभी दर्शकों ने बहुत आनंद लिया। कार्यक्रम के समापन में चंद्रशेखर गुर्जर कोरबा पूर्व द्वारा संत ज्ञानेश्वर रचित पसायदान का वाचन किया गया।

महापुरुषों का परिचय, गाया शुभम करोति कल्याणं

परिवार के युवा कलाकारों ने संध्या वंदना शुभम् करोति कल्याणम का गायन किया। महाराष्ट्र के पांच महापुरुषों का संक्षिप्त जीवन परिचय के अंतर्गत छत्रपति शिवाजी महाराज का परिचय हेमंत माहुलीकर कोरबा पश्चिम ने, जीजाबाई शाहजी भोंसले का नीलिमा देउलवार कोरबा पूर्व ने, आचार्य विनोबा भावे का आलोक दिवाटे ट्रांसपोर्ट नगर कोरबा ने, डा प्रकाश आमटे का जयश्री शेष एनटीपीसी ने, शिवराम हरिराम राजगुरु का संयुक्त रूप से प्रवीण जाखड़ी एवं प्राची जाखड़ी कोरबा पूर्व ने दिया। कार्यक्रम का सफल संचालन प्रतिभा पुंडलिक व आरती आचार्य ने किया।

देशभक्ति गीत व स्वरचित कविता की प्रस्तुति

अनीता कोलवाडकर कोरबा पूर्व ने हिंदी में एक देशभक्ति गीत, एनटीपीसी की मीना धाबू ने स्वरचित कविता पाठ किया। मराठी युवा मंच की गतिविधियों का संक्षिप्त वर्णन एवं भविष्य की योजनाओं के बारे में अभिलाष साउतकर ने बताया। मराठी संस्कार व संस्कृति के बारे में डा संगीता परमानंद कोरबा पूर्व ने उद्बोधन दिया। कोरबा पश्चिम से माधुरी जायसवाल ने पावर पाइंट प्रेजेंटेशन के साथ एक कविता का प्रस्तुतीकरण किया। इस अवसर पर सभी दर्शकों से आव्हान किया गया कि भविष्य में भी इस प्रकार के छोटे-छोटे आयोजनों व स्पर्धाओं में भाग लेकर कार्यक्रम को सफल बनाएं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags