कोरबा। टिक टॉक की दीवानगी में नौजवानों का खुद को खतरे में डालकर वीडियो बनाना किस कदर खतरनाक हो सकता है, इसके कई उदाहरण हम देख चुके हैं। पागलपन की हदें पार कर कई लोगों ने जान तक गंवाई पर फिर भी ऐसे सरफिरों की कमी नहीं। एक ऐसे ही टिक टॉक दीवाने को आरपीएफ कोरबा की टीम ने चलती ट्रेन में बार-बार दरवाजे से लटककर स्टंट करते पकड़ा है। जिंदगी को इतना सस्ता आंककर चलती ट्रेन में अपनी जान खतरे में डालते यह युवक रविवार को लिंक एक्सप्रेस में पकड़ा गया। अपने दौरा कार्यक्रम के लिए सुबह की ट्रेन से चांपा स्टेशन गए आरपीएफ पोस्ट कोरबा प्रभारी विरेंद्र कुमार लिंक एक्सप्रेस में सवार होकर लौट रहे थे। तभी उन्हें ट्रेन के एक स्लीपर कोच में दरवाजे पर खड़ा सेमहेरतरा थाना राजिम जिला रायपुर निवासी नरेंद्र कुमार साहू (23) स्टंट करता दिखाई दिया।

वह अपने एक दोस्त के साथ किसी पावर प्लांट में काम करने कोरबा आ रहा था। इस तरह चलती ट्रेन में खुद को खतरे में डालकर असुरक्षित यात्रा करते देख अपनी टीम के साथ युवक के पास पहुंचे प्रभारी विरेंद्र कुमार ने उसे हिरासत में ले लिया और पकड़कर कोरबा पोस्ट ले आई। युवक के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की गई है, जिसे सोमवार को बिलासपुर स्थित रेलवे मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया जाएगा, जहां उसे अपने स्टंट के लिए जुर्माना या अन्य कार्रवाई के तहत सजा का भुुगतान करना होगा।

उछलकूद करते मोबाइल पर हुआ कैद

ट्रेन में असुरक्षित यात्रा कर उछलकूद करते युवक का वीडियो भी बनाया गया। सोशल मीडिया में वायरल हुए इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि वह चलती ट्रेन के दरवाजे पर हैंडल पकड़कर किस तरह अपनी मौत को दावत देने की कोशिश कर रहा है। दुर्भाग्य से अगर हैंडल से हाथ छूट जाए या पैर फिसल गए तो पलक झपकते ही मौज का ये खतरनाक खेल मौत के मातम में बदलने देर न लगती। ऐसे खतरनाक स्टंट जानलेवा है, यह जानते हुए भी नौजवानों का अपनी जिंदगी दांव पर लगाना समझ के परे है। पकड़े गए युवक पर रेल अधिनियम की धारा 156 के तहत कार्रवाई की गई है।

जानलेवा है सीढ़ी, गेट या छत पर यात्रा

आरपीएफ पोस्ट प्रभारी विरेंद्र कुमार ने कहा कि ट्रेन की सीढ़ियों पर बैठकर यात्रा करना, छत पर चढ़ना या इस तरह की धमाचौकड़ी वाले स्टंट कर अपनी जान खतरे में डालना जुर्म की श्रेणी में आता है। उन्होंने बताया कि ऐसी कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं, जिनमें लोगों को असुरक्षित यात्रा करना या रेलवे के सुरक्षा मानकों को दरकिनार कर यात्रा करना जानलेवा साबित हुआ है। उन्होंने यात्रियों से गुजारिश की है कि कभी भी इस तरह के जोखिम न उठाएं, बैठने की निर्धारित जगह पर अपनी सीट में ही बैठकर सुरक्षित यात्रा करें, क्योंकि याद रखें कि स्टेशन या घर पर आपके अपने बेसब्री से आपका इंतजार कर रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket