महासमुंद (नईदुनिया प्रतिनिधि)। छत्‍तीसगढ़ के महासमुंद में गणतंत्र दिवस के दिन झंडा उतार रही दो छात्राएं करंट की चपेट में आ गईं, जिससे एक छात्रा की मौके पर मौत हो गई। प्री मैट्रिक अनुसूचित जनजाति कन्या छात्रावास पटेवा में बुधवार शाम सूर्यास्त से पूर्व झंडा उतारने के दौरान दो छात्राएं करंट की चपेट में आ गईंं। एक छात्रा की मौके पर मौत हो गई, जबकि एक झुलस गई। घायल बच्‍ची को महासमुंद जिले के तुमगांव सामुदायिक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

  • छात्रावास अधीक्षिका तत्काल प्रभाव से निलंबित।

  • सांसद संतोष पांडेय ने एक करोड़ मुआवजे की मांग की।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसे गंभीरता से लेते हुए तत्काल छात्रावास अधीक्षक को निलंबित करने के निर्देश दिए। साथ ही मृत छात्रा के स्वजन को चार लाख और छात्र दुर्घटना बीमा योजना के अंतर्गत एक लाख की राशि तत्काल प्रदान करने के उन्होंने मृत छात्रा के प्रति अपनी शोक संवेदना प्रकट की है। उधर, सांसद संतोष पांडेय ने एक करोड़ रुपये मुआवजा देने की मांग की है।

पुलिस के मुताबिक छात्रावास में कक्षा नौंवी की छात्रा किरण दीवान निवासी ग्राम उलबा और 10वीं की छात्रा काजल चौहान निवासी ग्राम भावा झंडा स्टैंड को पकड़कर तिरंगा झंडा उतारने लगीं। इस दौरान करीब 20 फिट लंबे लोहे का पोल झुका और हाई टेंशन तार से टकरा गया।

इससे दोनों करंट की चपेट में आ गईं। किरण की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि झुलसी काजल को तुमगांव सामुदायिक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। मुख्यमंत्री के आदेश पर कलेक्टर नीलेश कुमार क्षीरसागर ने हास्टल अधीक्षिका ऐश्वर्या साहू को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया। साथ ही दुर्घटना के जांच के आदेश दिए।

Posted By: Kadir Khan

NaiDunia Local
NaiDunia Local