नर्रा/खरियार रोड। (नईदुनिया न्यूज)।

पूत के पांव पालने में कहावत को चरितार्थ करता सार्थक निगम ब्यौहार, जिसकी 17 वर्ष की अल्प आयु में बनाई गई डिजिटल पेंटिंग को 20 लाख से अधिक लोगों ने देखा है। साथ ही लाखों लोगों का लाइक्स मिल चुके हैं। इस वायरल पेंटिंग को साउथ के सुपरस्टार साईं धर्म तेज, टीवी कलाकार रोहित सुचंति तथा बॉलीवुड स्टार सनी देओल के अभिनेता पुत्र करण देओल ने शेयर भी किया है।

इस पेंटिंग में काल्पनिक सुपर हीरो?, आज के वास्तविक नायकों को सलाम करते नजर आ रहे है। सार्थक वर्तमान में रुंगटा इंटरनेशनल स्कूल में कक्षा 12 वीं का छात्र है। रायपुर अध्यापन के लिए जाने के पूर्व वह महासमुंद जिले के ग्राम नर्रा में थे। दसवीं तक इनकी शिक्षा नवज्योति विद्यालय खरियार रोड (ओडिशा) में हुई। सार्थक के पिता शाश्वत ब्यौहार वर्तमान में कोरबा जिले के कटघोरा के पास उपरोड़ा में डॉक्टर हैं तथा माता वैशाली ब्यौहार ग्राम नर्रा में रहते हुए शिक्षिका के दायित्व का निर्वहन कर रहीं हैं। सार्थक ने अब तक दो जिला स्तरीय एवं एक राज्य स्तरीय पेंटिंग स्पर्धा में गोल्ड मेडल हासिल किया है। गत वर्ष महंत घासीदास स्मारक में 'छपास' ने सार्थक की पेंटिंग की प्रदर्शनी भी लगाई गई थी।

कोरोना से लड़ने वाले डॉक्टर्स आज के सुपर हीरो

फोटो- सार्थक ब्यौहार

सार्थक ब्यौहार ने बताया कि-कक्षा पांचवीं से ही डिजिटल पेंटिंग बना रहा हूं। मेरे दिमाग में जो भी थीम घर कर जाती है, उसी पर पेंटिंग बनाता हूं। वर्तमान में हमारे डॉक्टर्स कोरोना से लड़ रहे हैं जो वास्तव में आज के सुपर हीरो हैं। हमारे प्रधानमंत्री ने भी जनता कर्प्यू के बाद शाम पांच बजे इन लोगों के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए ताली, थाली, घंटी या फिर शंखनाद करने का आव्हान देशवासियों से किया था। हमारे एवेंजर्स मूवी में सुपर हीरो मास्क लगाकर हैरतअंगेज कारनामे करते हैं परंतु आज डॉक्टर्स मास्क लगाकर जिंदगी बचाने के लिए कोरोना से जंग लड़ रहे हैं। इसलिए सिल्वर स्क्रीन के हीरो से इन्हें बड़ा हीरो मानता हूं ।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket