बिरकोनी। राष्ट्रीय राजमार्ग-53 पर स्थित बिरकोनी में बुजुर्गों ने हस्ताक्षर अभियान छेड़ रखा है। 80 वर्ष की उम्र पार कर चुके बुजुर्ग किसान बीरसिंह साहू इस अभियान का नेतृत्व कर रहे हैं। जिसमें 90 वर्षीय अभयराम साहू, 85 वर्षीय बगस सेन सहित नम्मूलाल साहू, झगरू साहू, हरिमोहन दास वैष्णव, नारायण लाल साहू, सुकालू निषाद, बाबूलाल आदि अनेक बुजुर्ग किसान सहभागी हैं।

उनकी मांग है कि बिरकोनी में फोरलेन किनारे अछरीडीह रोड से बरबसपुर रोड तक सर्विस रोड बनाई जाए। साथ ही फोरलेन पर जहां बिरकोनी-बेमचा-महासमुंद रोड मिलती है, वहां डिवाइडर हटाकर सड़क पार करने का सुरक्षित रास्ता दिया जाय।

दरअसल फोरलेन बनने के बाद इस गांव के लिए बड़ी समस्या हो गई है। फोरलेन सड़क बिरकोनी के बीचों-बीच गुजरी है। सड़क के एक साइड बिरकोनी की मूल बस्ती, बाजार, सोसाइटी, स्कूल, अस्पताल, बैंक आदि तमाम प्रतिष्ठान के साथ-साथ श्मशानघाट, निस्तारी तालाब मंदिर देवालय आदि हैं। वहीं सड़क के दूसरे साइड इंडस्ट्रीयल एरिया, बिरकोनी के दो बड़े आबादी मोहल्ले, लाखों लोगों के आस्था का स्थल चंडी मंदिर, मौली मंदिर, गोठान, खेल मैदान आदि हैं। कृषि भूमि और खलिहान भी दोनों तरफ हैं।

फोरलेन पर कहीं भी अंडरब्रिज नहीं दिया गया है। बस्ती के लोगों को सड़क पार करने में बहुत दिक्कत होती है। सिर्फ एक स्थान बरबसपुर तिराहे पर डिवाइडर खोला गया है। जहां पर से सड़क पार जाने के लिए लोगों को फोरलेन पर विपरीत दिशा में चलना पड़ता है। सबसे ज्यादा परेशानी कृषि कार्य में लगे बैलगाड़ी और ट्रैक्टर वालों को होती है।

एक तो अनावश्यक रूप से बरबसपुर तिराहे तक घूमकर आना पड़ता है। दूसरा पशुधन को संभालते हुए विपरीत दिशा में चलना होता है। जब से फोरलेन बना है तब से अब तक जाने कितने मवेशी वाहनों से कुचले जा चुके हैं। वहीं 15 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है।

बिरकोनी के किसान ही नहीं स्कूली बच्चे भी यह मांग करते आ रहे हैं कि फोरलेन के साइड से अछरीडीह रोड से बरबसपुर रोड तक सर्विस रोड बनाई जाए, जिससे ग्रामीण, उनके वाहन और पशुधन की सुरक्षित आवाजाही हो सके। मांग है कि बिरकोनी-बेमचा-महासमुंद रोड जहां पर फोरलेन से मिलती है, वहां पर सड़क पार करने का सुरक्षित रास्ता दिया जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस