महासमुंद। बागबाहरा ब्लाक के वनांचल गांव कुरुभाठा में जंगली हाथी के कुचलने से सोमवार की शाम एक बुजुर्ग की मौत हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि बिंदू उर्फ दीनदयाल साहू (62) पुत्र साधुराम साहू समीपस्थ ग्राम बिजेपाल गया हुआ था। जो अपने घर कुरुभाठा वापस आ रहा था। तभी गांव से कुछ दूरी पर नदी से लगे रामकछार के पास हाथी ने कुचल दिया।

बताया जा रहा है फारेस्ट विभाग के कर्मचारी यहां हाथी आने की सूचना से पहले से ही तैनात थे। फारेस्ट कर्मचारियों ने उक्त बुजुुर्ग को उस रास्ते पर जाने से मना भी किया। लेकिन, वह नहीं माना। बताया जा रहा बुजुर्ग ने एक कुल्हाड़ी साथ रखा था, लेकिन हाथी के सामने उक्त औजार बहुत छोटा था।

हाथी के कुचलने से बुजुर्ग के एक हाथ और पैर धड़ से अलग हो गया है। घटना के तुरंत बाद वन अमला पहुंचा तब तक बुजुर्ग की मौत हो गई थी।

बीते कुछ दिनों से हाथी बागबाहरा वन परिक्षेत्र में सक्रिय हैं। यह दल सिरपुर की ओर से आया दल है। दल में दो से तीन दंतैल हाथी की संख्या बताई जा रही है। जिले में 2016 से हाथी समस्या है। केड़ियाडीह में हाथी के कुचलने से मौत की पहली घटना हुई थी। बाद से सिलसिला जारी है। अब तक दो दर्जन से अधिक लोग हाथी के कुचलने से मारे जा चुके हैं।

बता दें कि महासमुंद जिले के सिरपुर क्षेत्र और सरायपाली क्षेत्र में भी जंगली हाथियों का आतंक है। ग्रामीण आए दिन इनके शिकार हो रहे हैं। हाथियों को खदेड़ने के तमाम प्रयास विफल हो रहे हैं। वहीं भारी मात्रा में फसल को भी नुकसान पहुंचाते हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local