पिथौरा। पिथौरा नगर पंचायत प्रशासन ने गुरुवार को पुराना कांजी हाउस भवन से अवैध कब्जा धारी को बेदखल करते हुए प्रशासनिक मामलों की मौजूदगी में दल बल के साथ पहुंचकर बुलडोजर चलाने की कार्रवाई की। इस दौरान नगर पंचायत के अमले को अवैध कब्जा धारी के विरोध का भी सामना करना पड़ा ।

ज्ञात हो कि पिथौरा थाना परिसर से लगे पुराना कांजी हाउस भवन में विगत समय से एक व्यक्ति के द्वारा अवैध रूप से कब्जा कर लिया गया था। लिहाजा नगर पंचायत प्रशासन के द्वारा गुरुवार को अवैध कब्जे क हटाने की कार्रवाई प्रारंभ की गई। पिथौरा के तहसीलदार एवं राजस्व अमल के साथ पिथौरा थाना की टीम एवं नगर पंचायत प्रशासन के कर्मचारियों अधिकारियों की टीम के द्वारा उक्त स्थल से अवैध कब्जा धारी को बेदखल करने कब्जा हटाना प्रारम्भ किया गया। कब्जा धारी के द्वारा मौके पर उक्त स्थल को अपना होने का दावा प्रस्तुत किया गया। वही मौके पर मौजूद नगर पंचायत के सीएमओ महेंद्र गुप्ता के द्वारा उपरोक्त के संबंध में दस्तावेज की मांग किए जाने पर उनके पास किसी तरह का वैध दस्तावेज नहीं था। जिसके चलते उनके द्वारा दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किया जा सका।

एक साल के लिए लिया गया था किराया पर

तत्कालीन दिनों में नगर पंचायत प्रशासन के द्वारा उक्त पुरानी कांजी हाउस भवन को शराब ठेकेदारों को शराब दुकान संचालित करने के लिए प्रतिवर्ष किराए के रूप में दिया जाता था। इसी दरमियान एक पुराने शराब ठेकेदार के द्वारा उक्त कांजी हाउस भवन पर विगत 10 -15 वर्षों से अवैध रूप से कब्जा कर लिया गया था।

पूर्व के पदाधिकारियों ने नहीं की कोई पहल

पिथौरा नगर पंचायत प्रशासन के पूर्व के पदाधिकारियों के द्वारा उक्त स्थान से अवैध कब्जाधारी का कब्जा बरकरार रहा । हाल ही में शीतला समाज पिथौरा के पदाधिकारियों ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपते हुए पुराना काजी हाउस भवन से कब्जा धारी को बेदखल करने की मांग की। एसडीएम ऋतु हेमनानी ने पिथौरा तहसीलदार सहित राजस्व अमला तथा पुलिस प्रशासन को मौके पर भेजकर अतिक्रमण हटाए जाने की कार्रवाई कराई की।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local