महासमुंद। नईदुनिया प्रतिनिधि

हाथी प्रभावित सिरपुर क्षेत्र में आए दिन हाथियों का दल उत्पात मचा रहा है। कभी फसल बर्बाद कर रहे हैं तो कभी शासकीय संसाधनों को नुकसान पहुंचा रहे है। जन हानि से लेकर धन हानि लगातार इस क्षेत्र में हो रही है। शनिवार-रविवार की रात हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया। सनी देओल अभिनीत गदर फिल्म की वह सीन ग्राम जोबा के ग्रामीणों को याद आ गई, जब एक हाथी ने गांव के पास लगे हैंडपंप को उखाड़कर फेंक दिया।

जानकारी के अनुसार तुमगांव थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम जोबा गांव से कुछ ही दूरी पर मुक्तिधाम के पास शनिवार-रविवार की रात हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया। यहां फसल बर्बाद करने के अलावा हाथियों ने हैंडपंप उखाड़ डाला। सुबह लोगों ने हाथियों के पैर के निशान और लीद देखा तो उन्हें हाथियों के उग्र होने का अंदाजा हुआ।

ज्ञात हो कि सप्ताहभर पहले ही हाथी ने कुकराडीह बंजर में एक वृद्ध ग्रामीण को मौत के घाट उतार दिया। हिंसक हो चुका हाथियों का दल कुकराडीह बंजर के आसपास ही सक्रिय है। इसी क्षेत्र से लगा गांव जोबा भी है। जहां हैंडपंप उखाड़ने की घटना हुई है।

परिक्षेत्र अधिकारी मोहन दास मानिकपुरी ने उक्त घटना की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि हैंडपंप पंचायत की ओर से लगाया गया था। यहां आसपास मुक्तिधाम है और अंतिम संस्कार के बाद पानी की जरूरत को देखते हुए यहां हैंडपंप लगवाया है, जिसे हाथी ने उखाड़ दिया है। हालांकि यह क्षेत्र गांव की बसाहट से दूर है।

ज्ञात हो कि क्षेत्र में हाथियों की आमद है और वे लगातार फसल को नुकसान पहुंचा रहे हैं। कुकराडीह की घटना के बाद से लोग डरे सहमे हैं। किसान अपने खेत में लगे फसल को देखने के लिए जाने से भी कतरा रहे हैं। सघन वनों से ढंके जंगली रास्तों पर चलने से लोग कतरा रहे हैं। लोगों का कहना है कि कब रास्ते में हाथी सामने आ जाए, इसका कोई भरोसा नहीं है। हाथियों के उत्पात से तैयार हो चुके फसल की कटाई कराने को लेकर भी ग्रामीण चितिंत हैं। वहीं खेतिहर मजदूरों को भी जान का भय सता रहे है, वे कटाई के लिए खेत जाने में टालमटोल कर रहे हैं।

जानकारी के अनुसार गोमर्डा अभयारण्य क्षेत्र से दो हाथी बीती रात सहसपानी में फसल को नुकसान कर अभयारण्य की कोर सीमा में प्रवेश किया और आगे बढ़ते हुए वन विभाग के बैरियर को तोड़ दिया। इसके बाद हाथी सारंगढ़ के शिवपुरी गांव पहुंच गए और खेत के किनारे होकर सरायपाली (महासमुंद) सीमा के गांव पोड़ापाली में किसानों के खेतों से बढ़कर तिलाईपाली की ओर पहुंच गए। इसकी सूचना जब सारंगढ़ एसडीओ एके विंध्यराज को मिली तो उन्होंने मौके पर टीम रवाना किया। इन हाथियों के वापसी की खबर से लोगों में दहशत बनी हुई है, साथ ही फसल नुकसान की चिंता सता रही है।

वर्जन

'हाथियों के दल ने जोबा गांव के बसाहट से लगे जंगल क्षेत्र में हैंडपंप उखाड़ा है। घटना सूचना की तस्दीक कराई गई है। हैंडपंप पंचायत मद से लगाया गया था। आसपास मुक्तिधाम है। क्षेत्र में हाथियों के मौजूदगी की जानकारी ग्रामीणों को दी जा रही है।

- मोहनदास मानिकपुरी, परिक्षेत्र अधिकारी महासमुंद

---

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket