महासमुंद। नईदुनिया प्रतिनिधि

पैगंबर हजरत मोहम्मद साहब का जन्मदिन नगर में जोश खरोश के साथ मनाया गया। सुबह नमाज अता करने के बाद नयापारा स्थित गौसिया मस्जिद से जुलूस निकाला गया। धार्मिक गीतों के साथ हाथ में धर्म पताका थामे मुस्लिमजन जुलूस में शामिल हुए। नारा-ए- तकबीर अल्लाहो अकबर और हुजूर की पैदाइश पर मुबारकबाद के नारे लगाए जाते रहे। इस दौरान पैगंबर साहब के द्वारा दिए गए इंसानियत, प्रेम, भाईचारा के संदेश दिए गए। जुलूस इदगाह पहुंचा। यहां परचम कुशाई की गई। ध्वजारोहण के बाद जुलूस एकता चौक पहुंचा। यहां मौलाना साहबों का इस्तकबाल हुआ। वहीं नात खा साहब का फूलों से इस्तकबाल हुआ। बाद जुलूस गंजपारा पुराना मछली बाजार अमीर ए मिल्लत चौक पहुंचा। यहां परचम कुशाई की गई। यूसुफ धनवानी, अजीज कुरैशी ने बताया कि बाहर से आए प्रवचनकर्ताओं का अमीर ए मिल्लत चौक में स्वागत किया गया। जामा मस्जिद के मुफ्ती साहब, गौसिया मस्जिद के हाफीज साहब, रजा मस्जिद के आलिम साहब जुलूस में शामिल रहे। बस स्टैंड में परचम कुशाई की गई। यहां उल्मा एकराम की तकरीर हुई। बाद लंगर प्रसाद बांटा गया। पैगंबर साहब के जन्मोत्सव पर नगर में जगह-जगह लंगर का आयोजन किया गया था। बस स्टैंड के बाद जुलूस बाजार वार्ड से जामा मस्जिद पहुंचा। यहां सदर जामा मस्जिद हाजी अब्दूल कादर खैरानी ने परचम कुशाई की। बाद जोहर की नमाज अता कर देश, प्रदेश नगर के अमन चैन की कामना की गई। लंगर में साामजिकजनों ने सामूहिक भोज किया। यहां जुलूस का समापन हुआ।

सिख युवा संगठन ने किया स्वागत

हुजूर के जन्मोत्सव पर निकले जुलूस का नेहरू चौक में सिख युवा संगठन के युवाओं ने स्वागत किया। जुलूस में शामिल लोगों के लिए यहां जलपान की व्यवस्था की गई थी। यहीं नहीं विभिन्न धार्मिक सामाजिक संगठन, जनप्रतिनिधियों ने भी विभिन्न चौक-चौराहों पर जुलूस का स्वागत किया। साथ ही गले मिलकर ईद मिलादुन्नबी की बधाई दी।

Posted By: Nai Dunia News Network