बिरकोनी-महासमुंद(नईदुनिया न्यूज)।

माघ के महीने में बुधवार से शनिवार तक सावन की तरह दिनभर झड़ी लगी रही। सुबह से लेकर शाम तक अच्छी बारिश हुई। बे-मौसम बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त रहा। स्कूल में जहां बच्चों की उपस्थिति कम रही। वहीं सरकारी कार्यालयों में चहल-पहल नहीं दिखी। लोग रैनकोट, छतरी के साथ निकले। बे-मौसम बारिश ने ठंड बढ़ा दी। ठंड से बचने के लिए लोगों ने अलाव का भी सहारा लिया। मौसम खुलने से रविवार को राहत मिली। रविवार को भी आसमान में बादल हल्के हल्के छाए रहे और सुबह से कभी घूप तो कभी छांव नजर आए। बारिश से जहां ठंड बढ़ गई। वहीं लोगों का जनजीवन प्रभावित हुआ। बहरहाल रविवार को धूप निकलने से लोगों ने राहत महसूस की। गुनगुनी धूप में लोग बैठे रहे।

सप्ताह भर से बदले मौसम से खेतों-बाड़ी में लगाई गई सब्जी की फसल के खराब होने की आशंका बढ़ गई है। क्षेत्र में बिरकोनी, बरबसपुर, बड़गांव, अछरीडीह, खटटीडीह, मुस्कि, अमावास, बेलटुकरी और नदी बाड़ी में सब्जी की फसल लगाई जाती है। किसान बैंगन, मिर्च, टमाटर, फूल गोभी, पत्ता गोभी, पालक भाजी, मेथी, धनिया, लाल भाजी सहित कई किस्म की सब्जी की फसल लगाए हैं। बारिश के चलते सब्जी की फसल पर खासा असर पड़ रहा है। किसानों ने फसल के लिए हजारों रुपये खाद, बीज पर खर्च किया था, परंतु बदले मौसम बारिश ने इसे बर्बाद कर दिया है। इसके अलावा जो भी कुछ सब्जियों की खेती बच गई है, उस पर अब कीट पतंगों का प्रकोप बढ़ने की आशंका है। बारिश के चलते सब्जी उत्पादन करने वाले किसानों के चेहरे पर चिंता की लकीरें है।

बारिश से रबी फसलों को नुकसान

फरवरी माह में हो रही बारिश ने सावन-भादो में होने वाली बारिश का अहसास करा दिया है। खराब मौसम का सबसे ज्यादा असर किसानों पर पड़ रहा है। एक तरफ उनके धान नहीं बिक पा रहे हैं, तो दूसरी ओर रबी फसल को भी नुकसान हो रहा है। बारिश का असर मसूर, तिवरा तथा अरहर की फसल पर ज्यादा पड़ा है। किसानों की पूरी अर्थव्यवस्था रबी फसलों पर ही टिकी रहती है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना